आप भी है इंटरनेट प्रेमी तो हो जाइये सावधान

0
4
Cheerful young women at home, preparing at tripand buying on internet

Cheerful young women at home, preparing at tripand buying on internet

नई दिल्ली : आजकल के बच्चे गैजेक्ट्स और इंटरनेट के बिना नहीं रह सकते। एक शोध से पता चला है कि टीनेजर्स का घंटों तक इंटरनेट पर काम करना, उनकी सेहत के लिए ख़तरनाक साबित हो सकता है। ऐसा करने से वे वज़न बढ़ने की समस्या के साथ उच्च रक्तचाप की समस्या से जूझ सकते हैं। अध्ययन के मुताबिक, जो बच्चे हफ्ते में 14 घंटे इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं, उन्हें उच्च रक्तचाप की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

डेट्रॉइट के हेनरी फोर्ड हॉस्पिटल, यू.एस. की मुख्य लेखिका एंड्रिया कासिडी-बुशरो का कहना है, ‘इंटरनेट का इस्तेमाल करना हमारी रोज़ की लाइफ का हिस्सा है। इस अध्ययन के दौरान देखा गया है कि बच्चे हफ्ते में 25 घंटे से ज़्यादा इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे हैं।’

इसके चलते शोधकर्ताओं ने 14 से 17 साल तक की उम्र के करीब 335 टीनेजर्स के डाटा को इकट्ठा कर विश्लेषण किया। इस दौरान उन्होंने उनके बल्ड प्रेशर की जांच की। अध्ययन के चलते, शोधकर्ताओं ने वेबसाइट, ईमेल, गेम खेलने वाली साइट, मेसिजिंग, शॉपिंग, डाउनलोडिंग सोफ्टवेयर, होमवर्क और वेबपेजों को बनाए या बनाने के लिए इंटरनेट को परिभाषित किया। शोधकर्ताओं द्वारा करीब 134 टीनेजर्स, भारी मात्रा में इंटरनेट का प्रयोग करते दिखे, जिनमें से 26 बच्चों को उच्च रक्तचाप की समस्या पाई गई।

कासिडी-बुशरो के अनुसार, ‘युवाओं को नियमित रूप से अपने कंप्यूटर या स्मार्टफोन से थोड़े समय के लिए ब्रेक लेना बेहद ज़रूरी है। ऐसे में उन्हें खुद को किसी तरह की शारीरिक गतिविधि में व्यस्त करना चाहिए। साथ ही पैरेंट्स को भी अपने बच्चे के इंटरनेट के इस्तेमाल पर रोक लगानी चाहिए। हफ्ते के पांच दिन या रोज़ के दो घंटे, बच्चों की सेहत के लिए एक अच्छा नियम रहेगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here