bihar-schedule-ndtv-650x400_650x400_51442909130

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव से पहले जारी दो सर्वेक्षणों में जदयू-राजद-कांग्रेस के महागठबंधन को बहुमत मिलता दिख रहा है, जबकि एक सर्वेक्षण में भाजपा के नेतृत्व वाले राजग गठबंधन को बहुमत से तीन सीटें कम मिलती दिखाई दे रही हैं।

सीएनएन-आईबीएन -एक्सिस ने महागठबंधन को दिखाई बढ़त
सीएनएन-आईबीएन-एक्सिस के चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में महागठबंधन को बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 137 सीटें और राजग को केवल 95 सीटें जीतने की संभावना जताई गई है।

इस सर्वेक्षण में बताया गया है कि एकल पार्टी के तौर पर भाजपा को सबसे ज्यादा 82 सीटें मिलेंगी जबकि इसके सहयोगियों को केवल 13 सीटें वहीं इसमें जदयू को 69, लालू प्रसाद यादव के राजद को 48 और कांग्रेस को 20 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है। सीएनएन-आईबीएन-एक्सिस के चुनाव पूर्व सर्वेक्षण में महागठबंधन को 46 प्रतिशत मत, राजग को 38 प्रतिशत मत और अन्य को 16 प्रतिशत मत मिलने की संभावना जताई गई है।

आईटीजी-सिसेरो ने महागठबंधन को दिखाई बढ़त
एक अन्य चुनाव पूर्व सर्वेक्षण आईटीजी-सिसेरो को आज इंडिया टुडे टीवी पर दिखाया गया और इसमें महागठबंधन को 122 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है और इतनी सीटें साधारण बहुमत के लिए आवश्यक हैं। वहीं राजग इस सर्वेक्षण में 111 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर है। अन्य 10 सीटें वामपंथी एवं अन्य दलों के खाते में जाने का अनुमान है। इस सर्वेक्षण में महागठबंधन को 41 प्रतिशत मत, राजग को 39 प्रतिशत मत और अन्य को 20 प्रतिशत मत मिलने की संभावना जताई गई है।

सी-वोटर के सर्वे में दिखाई गई कांटे की टक्कर
इसके अलावा इंडिया टीवी और टाइम्स नाउ द्वारा प्रसारित सी-वोटर के चुनाव पूर्व सर्वेक्षण के अनुसार, भाजपा के नेतृत्व वाले राजग को 119 सीटें मिलने की संभावना व्यक्त की गई है, जो कि बहुमत से तीन सीटें कम है। इसके अतिरिक्त राजद, जदयू और कांग्रेस के महागठबंधन को 116 सीटें मिलने की संभावना है, जो राजग से तीन कम है। जबकि आठ सीटें अन्य को मिलने की संभावना व्यक्त की गई है। सी-वोटर के सर्वेक्षण में राजग को 43 प्रतिशत मत मिलने की संभावना है, जबकि महागठबंधन को 41 प्रतिशत मत मिलने का अनुमान है।

मुख्यमंत्री के तौर पर नीतीश कुमार पहली पसंद
सभी सर्वेक्षणों में मुख्यमंत्री के तौर पर नीतीश कुमार पहली पसंद बने हुए हैं और अपने प्रतिद्वंदियों से कई गुना आगे हैं। वर्ष 2010 के विधानसभा चुनाव में तत्कालीन भाजपा-जदयू गठबंधन को 206 सीटें मिली थीं जबकि लालू प्रसाद की राजद और रामविलास पासवान की लोजपा को 25 सीटें मिली थीं। बिहार विधानसभा के लिए पांच चरणों में 12, 16 और 28 अक्तूबर तथा 1 और 5 नवंबर को मतदान होना है। मतों की गिनती 8 नवंबर को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here