मेवातियों के इतिहास को हम भुला नहीं सकते : कृष्णपाल गुर्जर

0
69

Palwal/Alive News : बच्चों को अच्छी-अच्छी तालीम दे ताकि क्षेत्र के विकास में अपनी अहम भूमिका अदा कर सके। क्षेत्र की खुशहाली के लिए क्षेत्र के लोगों का शिक्षित होना बहुत जरूरी है। रूपड़ाका गांव में आयोजित शहीदी दिवस समारोह में केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि 1857 की लड़ाई में अग्रेजों सेना से लोहा लेते हुए गांव रूपडक़ा में सैकड़ों लोग शहीद हुए थे। मेवात के लोग बहुत बहादुर व देशभक्त रहे हैं , यहां के लोग देश के लिए हर कुर्बानी देने को सैदव तैयार रहे है। मेवातियों के इतिहास को हम कभी भुला नहीं सकते। जो कौम अपने शहीदों को भुल जाती है वो मिट जाती है। इसलिए हम शहीदों की शहादत को सदैव याद रखना चाहिए।

राज्यमंत्री ने क्षेत्र के बच्चों को शिक्षित करने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि वे बच्चों को तकनीकी एवं गुणात्मक शिक्षा दिलवाएं। जब तक बच्चे पढ़ेगे नहीं तब तक क्षेत्र में खुशहाली नहीं आ सकती। उन्होंने कहा कि गांव दुधोला जिला पलवल में कौशल विकास विश्वविद्यालय स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि रूपड़ाका गांव के अन्य गांवों से जोडऩे वाले 5-6 करम चौड़े रास्तों को पक्का बनवाया जायेगा। उन्होंने गांव में प्राईमरी हैल्थ सैन्टर व डिलवरी हट भी खुलवाई जाएगी। आदर्श की जो भी सुविधाएं हैं वे उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने मीनार के निर्माण व सौन्दर्यकरण तथा मेवात रतन कामरेड इस्लामुदीन लाईबे्ररी के रखरखाव के लिए सांसद कोष से अनुदान देने बारे भी कहा।

इस अवसर पर केन्द्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर व मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला ने शहीद मीनार पर पुष्प अर्पित कर शहीदों को श्रंद्धाजलि दी। गांव उटावड़ में पहुंचने पर केन्द्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर का भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर मेवात शहीदी कमेटी के उप प्रधान आजाद खान, महासचिव सिसजूदीन ठेकेदार, मा.ईकबाल, चेयरमैन मार्किट कमेटी लेखराज, निगरानी समिति पलवल के चेयरमैन मुकेश सिंगला, संजय गुर्जर, जय सिंह चौहान, अधिवक्ता अविनाश शर्मा, चौ. रफीक अहमद, नरेन्द्र बिधूड़ी सहित गांवों के पंच-सरपंच व गणमान्य एवं ग्रामीण लोग मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email