लापरवाही : डॉक्टर ने ब्रेन की बजाए बॉडी का किया एमआरआई

0
25

डॉक्टर की लापरवाही पर पीएमओ ने दिए जांच के आदेश

फरीदाबाद,(शफी सिद्दकी) : बादशाह खान अस्पताल के सीनियर रेडियोलोजिस्ट डॉ.वरूण शर्मा ने अपनी लापरवाही का परिचय देते हुए पलवल की वृद्ध महिला जमना देवी का एमआरआई ब्रेन की बजाए पूरी बॉडी का कर डाला। यह बादशाह खान अस्पताल के डॉक्टर व कर्मचारियों के लिए यह पहली लापहरवाही नही है। बल्कि इस तरह की लापरवाही बार-बार होती रहती है और अधिकारी ऐसे मामलों को शिकायतकर्ता के सामने हल्की डांट-फटकार लगाकर रफा-दफा कर देते है। हालांकि इस मामले में पीएमओ को शिकायत जाने के बाद डॉक्टर दूसरों पर कानूनी तंज कसने वाले ने अपनी गलती मानते हुए गिडग़ीड़ाना शुरू कर दिया।

Faridabad Photo-7

इस बड़ी लापरवाही पर पीएमओ ने सीनियर रेडियोलोजिस्ट डॉ.वरूण शर्मा के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। उधर, अस्पताल अपनी लापरवाही को लेकर अकसर सुर्खियों में रहता है। यह मामला कुछ इस तरह हुआ कि पलवल निवासी मुकेश बघेल अपनी मां श्रीमति जमना देवी को दिमागी परेशानी होने पर एमआरआई के लिए बादशाह खान अस्पताल ले आए। मुकेश ने अपनी मां के सर की एमआरआई की फीस देने और सभी कागजी औपचारिकताएं पूरे करने में बड़ी जद्दो-जहद के बाद एमआरआई कराने का नम्बर आया। हालांकि मुकेश की माता के ब्रेन का इलाज दिल्ली के जय प्रकाश नारायण एपेक्सट्रामा सेंटर के डॉ. सचिन बोरकर से चल रहा था।

उनकी तबियत में कुछ सुधार न आने के कारण डॉक्टर ने उनकी मां के ब्रेन का एमआरआई कराने को कहा और मुकेश को पता था कि फरीदाबाद के सरकारी अस्पताल में एमआरआई की फेस्लिटी शुरू हो चुकी है। क्यों ना मां के ब्रेन का एमआरआई बादशाह खान अस्पताल में कराया जाए। 2 मई को मुकेश अपनी मां को लेकर बादशाह खान अस्पताल पहुंच गया और एमआरआई भी हो गया, रिपोर्ट भी घण्टों इंतजार के बाद मिल गई। मुकेश को दिल्ली पहुंचने पर लगा कि एमआरआई हो गया है अब तो मां का ईलाज आज ही शुरू हो जाएगा, लेकिन उसे क्या पता था आज भी बादशाह खान अस्पताल के डॉक्टर की लापरवाही के कारण उनकी माता का इलाज नहीं हो पाएगा।

हालाकि फरीदाबाद के बादशाह खान अस्पताल के सीनियर रेडियोलोजिस्ट डॉ.वरूण शर्मा की लापरवाही रिपोर्ट देखने के बाद उजागर करते हुए जय प्रकाश नारायण एपेक्सट्रामा सेंटर के डॉ. सचिन बोरकर ने कहा कि मैंने तो एमआरआई ब्रेन का लिख कर दिया था लेकिन किसी ने बिना देखे ब्रेन की बजाए धड़ का एमआरआई कर दिया है। यह सुनकर मुकेश के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। मुकेश ने अगले ही दिन बादशाह खान अस्पताल के डॉक्टर की लापरवाही की शिकायत पीएमओ से की, उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा कि मामले की पहले तो जांच होगी और किसी भी सुरत में लापरवाही होने पर डॉक्टर को नही बक्सा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here