08 oct. Photo-1फरीदाबाद: महाबली वीर हनुमान सेवा व भक्ति की पराकाष्ठा है, रामायण में हनुमान ने लोगों को यह संदेश देने का काम किया है कि भक्ति से भगवान को भी पाया जा सकता है। वहीं शबरी के झूठे फल खा कर भगवान राम ने उन लोगों के लिए उसी समय संदेश छोड दिया था जो कि आज जात-पात के नाम पर समाज में विष घोल रहे हैं। रामायण में राम विलाप, शबरी प्रसंग तथा राम हनुमान मिलन की व्याख्या करते हुए बल्लभगढ की अग्रवाल धर्मशाला में चल रही भव्य रामकथा में परम संत कृष्णा स्वामी जी महाराज ने कहा कि जात पात समाज में सबसे बडा विष है तो सफाई न रखना उससे भी बडा पाप, शबरी ने साफ सफाई कर अपने आंगन को भगवान राम के लिए साफ सुधरा रखा था, इसी कारण भगवान राम उनके यहां पर न केवल गए बल्कि फलाहार भी किया।

इस कारण उनका कहना था कि साफ सफाई रखोगे तो भगवान मिलेंगें। कथा के सांतवे दिवस राम विलाप, शबरी प्रसंग, राम हनुमान मिलन, बाली उद्वार से लेकर हनुमान की लंका यात्रा का सुंदर बर्णन किया गया। राम कथा सुनने आए बदरपुर के विधायक नारायण दत्त शर्मा ने हजारों की संख्या में उपस्थित श्रदालुओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि उन्होंने अनेको राम कथाएं सुनी व देखी हैं पर जिस प्रकार से कृष्णा स्वामी महाराज आज के समय की आवश्यताओं के अनुरुप कथा को सुना रहे हैं वह अपने आम में अनौखी विधा है। उनके अनुसार जिस प्रकार से साफ सफाई तथा जातिगत व्यवस्था पर महाराज ने कथा सुनाई उससे समाज को नई दिशा मिलेगी।

इस मौके पर क्राउन ग्रुप के एम.डी. जे.पी.गुप्ता ने कहा कि इस तरह के आयोजनों से समाज को नई दिशा मिलती है। आज समाज को रामायण की पहले से ज्यादा जरुरत है और इस बात का प्रमाण यहां पर उपस्थित हजारों की संख्या में श्रदालु हैं। कथा में प्रमुख रुप से हिसार के विधायक कमल गुप्ता के भाई अनिल गुप्ता, पवन गोयल, जय प्रकाश गोयल, राकेश गर्ग, नरेश शर्मा, जितेन्द्र शर्मा, प्रेम शर्मा, टीटू पंडित, राजेश गोयल, मोती लाल, श्रीचंद मंगला, एमएम गर्ग, लाला रतन सिंह गुप्ता, कैलाश गर्ग, एन.एस.के अग्रवाल, बिशन चंद बंसल, नरेश अग्रवाल, लाल मुंशीराम, नानक चंद तायल, रुप चंद गुप्ता, टीडी दिनकर, पडित रमेश तिवारी, प्रेम प्रकाश पंडित, बनवारी लाल गुप्ता प्रमुख रुप से उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here