कैश लैश ट्रांजेक्शन को लेकर नूंह में आयोजित एक बैठक

0
6

Nuh/Alive News : उपायुक्त मनीराम शर्मा की अध्यक्षता में आज उनके कार्यालय में कैश लैश ट्रांजेक्शन को लेकर एक बैठक आयोजित की गई। जिसमें उन्होंने बताया कि किस प्रकार से आप कैश लैश ट्रांजेक्शन का प्रयोग कर सकते है।

उपायुक्त ने बताया कि भारत विकासशील देश है जो आने वाले समय में विकसित होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्र्र को मजबूत एवं शक्तिशाली बनाने के लिए आम नागरिक की भागीदारी जरूरी है। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को समाज व राष्ट्र्रहित में कार्य करना होगा, तभी राष्ट्र्र का भविष्य उज्ज्वल होगा। उन्होंने कहा कि सभी प्रकार के लेनदेन के कार्य मोबाईल बैंकिंग, नेट बैंकिंग, आधार बैंकिंग, पेटीएम, प्रीपेड कार्ड, डेबिट एवं क्रेडिट कार्ड आदि की विस्तार से जानकारी प्राप्त करके स्वयं भी करें और आंजनों को भी इस बारे में जागरूक करे। उन्होंने कहा कि सभी खाताधारक से आह्वान किया कि वे संबंधित बैंक शाखा में जाकर मोबाइल व आधार नंबर को अपने बैंक खाता से लिंक करवाए। इसके उपरान्त संबंधित बैंक द्वारा उपभोक्ताओं को एमएमआईडी कोड एवं एमपिन कोड दिया जाएगा, जिसके माध्यम से कोई भी उपभोक्ता कैश लैश ट्रांजेक्शन कर सकता है। साथ ही सभी अधिकारियों व जिले के क्लैस्टर अधिकारी व कर्मचारियों से कहा कि कैश लैश में अपना पंजीकरण कराए और अपने किसी भी आस-पास के लोगों के खातों में ट्रांजेक्शन करना सुनिश्चत करें तथा इसके बाद ही उनका पंजीकरण किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि सभी को कैश लैश ट्रांजेक्शन बारे जानकारी दी जाएगी। उन्होंने कहा कि नगदी रहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए यूनिफाइट पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई), अनस्ट्रक्चर्ड सप्लीमेंट्री सर्विस डाटा (यूएसएसडी) तथा कैशलैश ट्रांजैक्शन की अन्य पद्धतियों पर स्वयं को पंजीकृत करवाने वाले लोगों के लिए सरकार द्वारा दैनिक पुरस्कार योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया है जो सराहनीय कदम है, जिससे आमजन मानस को लाभ होगा। उन्होंने कहा कि कैश लैश ट्रांजेक्शन से पैसा भी सुरक्षित होगा और पैसों की बचत भी होगी। जिसमें विभाग के अधिकारी बैंक प्रतिनिधियों के साथ मिलकर किसानों एवं आमजन मानस को कैश लैश ट्रांजेक्शन के बारे में जागरूक करेंगे।

इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त नरेश नरवाल, नगराधीश प्रदीप अहलावत, मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी मोहित सोनी, सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here