एम्स : थेरेपी के लिए डेढ़ साल बाद आना, जल्दी हो तो कही ओर करा लेना

0
29

New Delhi/Alive News : कैंसर के संदर्भ में डॉक्टर यह सलाह देते रहे हैं कि इस बीमारी का शुरुआती स्टेज में ही पता लगाकर जल्द इलाज जरूरी है। मगर, एम्स का हाल यह है कि यदि मरीज इलाज के लिए यहां पहुंच भी जाए तो रेडिएशन थेरेपी के लिए इतनी लंबी तारीख दे दी जाती है कि उसकी जिंदगी खतरे में दिखने लगती है। ऐसा ही एक वाकया शुक्रवार को हुआ।

एम्स में इलाज के लिए पहुंचीं 63 वर्षीय महिला को रेडिएशन थेरेपी के लिए डेढ़ साल बाद की तारीख दी गई। साथ ही डॉक्टरों ने यह भी सलाह दी कि यदि जल्द इलाज कराना हो तो दूसरे अस्पताल में रेडिएशन थेरेपी करा लें। आर्थिक रूप से कमजोर मरीजों के लिए परेशानी की बात यह है कि सरकारी क्षेत्र के अस्पतालों में रेडियोथेरेपी की सुविधाएं सीमित हैं। एम्स के अलावा दिल्ली राज्य कैंसर इंस्टीट्यूट में ही इसकी अच्छी सुविधा उपलब्ध है। इस अस्पताल में भी मरीजों की काफी भीड़ होती है।

ऐसे में दूसरे अस्पताल में इलाज कराने की सलाह के बाद मरीजों के पास इलाज के लिए ज्यादा विकल्प नहीं होता है।पीड़ित महिला सर्वाइकल कैंसर की बीमारी से पीड़ित हैं। उनके बेटे शेखर ने बताया कि दो-ढाई महीने से उनका एम्स में इलाज चल रहा है। हम यह सोचकर एम्स में उन्हें इलाज के लिए लेकर गए थे कि वह बड़ा अस्पताल है।

वहां गायनी क्लीनिक में दिखाने के बाद डॉक्टरों ने रेडिएशन थेरेपी कराने की सलाह दी, इसलिए शुक्रवार को वह एम्स गई थीं। वहां रेडिएशन के लिए डेढ़ साल बाद का समय दिया जा रहा था। साथ ही यह भी कहा गया कि चाहें तो दूसरे अस्पताल में जाकर इलाज करा लें, क्योंकि यहां डेढ़ साल से पहले रेडिएशन थेरेपी नहीं हो पाएगी। इस बारे में अस्पताल प्रशासन से बात करने की कोशिश की गई, मगर बात नहीं हो पाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here