अमृत जल कंपनी के सीलबंद गिलास में गंदगी और बाल, मचा हड़कप

0
102

Faridabad/Alive News : शहर में खनन, माफिया, रेत माफिया, भूमाफिया ही नहीं जल माफियाओं ने शहर को तवाह करने में कोई कमी नहीं छोड़ी है। कई जगहों पर अवैध जल दोहन के साथ-साथ गंदे पानी की सप्लाई भी की जा रही है। ये कहना है बार एशोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर का जिन्होंने दावा किया है कि शहर में सप्लाई किया जा रहा अमृत जल के पानी में गंदगी मिली है। पाराशर का कहना है कि उनके पास अमृत जल की सीलबंद गिलास है जिसमे गंदगी एवं बाल साफ़ दिखाई दे रहा है। पराशर ने कहा कि कंपनी वाले लोगों को पैसे लेकर गन्दा पानी पिला रहे हैं और जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। पाराशर ने कहा कि अमृत जल कंपनी फरीदाबाद के रेलवे रोड के किनारे एक गंदे नाले के पास बनी है और कंपनी का कुछ हिस्सा गंदे नाले पर है। उन्होंने कहा कि गंदे नाले पर पानी की कंपनी बिना अधिकारियों की मिलीभगत से नहीं बन सकती है इसलिए संभव है नगर निगम अधिकारियों की इसमें मिलीभगत हो।

एडवोकेट पाराशर का कहना है कि उनके पास उस कंपनी के गंदे पानी का जो गिलाश है उस पर आईएसआई का मार्क भी लगा है। उन्होंने कहा कि शहर में जल माफिया कैसे लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं और पैसे लेकर गंदे पानी की सप्लाई कर रहे हैं ये इसका जीता जागता उदाहरण है। उन्होंने कहा कि ये कंपनी एक नेता के घर के पास बनी है जिस कारण संभव है स्थानीय नेता की भी इसमें मिलीभगत हो। वकील पाराशर ने कहा कि गंदे पानी की सप्लाई करने वाली इस कंपनी पर तुरंत ताला लगाया जाना चाहिए और गंदे नाले पर पर अवैध कब्ज़ा कर बनाई गई कंपनी को तुरंत न तोडा गया तो वो नगर निगम और कंपनी मालिक पर मामला दर्ज करवाएंगे।

इस पानी की कंपनी के बारे में जब स्थानीय पार्षद जशवंत सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि ये कंपनी अवैध रूप से सरकारी जमीन के नाले पर बनाई गई है और मैंने खुद इसकी शिकायत की थी । उन्होंने कहा कि मैं नगर निगम सदन की बैठक में भी ये मुद्दा उठाया था लेकिन अब तक कंपनी के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई।

क्या कहना है अमृत जल कंपनी के मैनेजर का
उनकी कम्पनी आईएसआई से प्रमाणित है और साफ सफाई का पूरा ध्यान रखा जाता है. गिलास को धोने के बाद मशीन में डाला जाता है। ऐसी चूक नही हो सकती।
ईश्वर शर्मा, मैनेजर, अमृत जल कंपनी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here