लिंग्याज विद्यापीठ में बैंकिंग लोकपाल कार्यशाला सम्पन्न

0
44

Faridabad: लिंग्याज विद्यापीठ के प्रबंधन विभाग द्वारा एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसका मुख्य विषय वित्तीय अनियकिताएँ व उपभोक्ता और खाताधारी विवादों का समुचित निपटान रखा गया था। कार्यशाला में भारतीय रिजर्व बैंक, नई दिल्ली से नोर्थ जोन व हरियाणा के बैंकिंग लोकपाल सर्वश्री आर.एस. अमर, बैंकिंग लोकपाल सचिव डा. दिलीप सिंह, भारतीय रिजर्व बैंक के महाप्रबंधक व गैर वित्तीय सेवाएं (बैंकिंग) एनबीएफसी के सचिव सिन्धू पंचोली, रिजर्व बेंक के सहायक महाप्रबंधक बृजलाल सिंह व उनकी टीम सदस्यों ने अपने-अपने विचार रखे।

संगोष्ठी का उदघाटन आर.एस अमर, उत्तर भारत के बैंकिंग लोकपाल ने लिंग्याज विद्यापीठ प्रो. सुरेंद्र ढींगरा, सिंधू पंचोली, प्रो. के.एन पांडे, प्रो. एसएल गुप्ता, प्रो. जीवन कुमार चौधरी व डा. दिलीप सिंह लोकपाल सचिव की उपस्थिति में माँ सरस्वती के मंगलदीप प्रज्ज्वलन के साथ किया। बैंकिंग लोकपाल, भारतीय रिजर्व बैंक, नई दिल्ली के अधिकारियों ने उपभोक्ता (बैंकिंग) को बैंकिंग सेवा से होने वाली परेशानियों के निराकरण के लिए विभाग द्वारा किए जा रहे प्रयासों व जागरुकताओं से अवगत कराया तथा बैंकिंग उपभोक्ता समस्याओं के लिए समय-समय होने वाले नियमों में बदलाव को छात्रों व प्राध्यापक वर्ग के समक्ष रखा। उनकी टीम ने लोकपाल की भूमिका को बेहद आसान तरीके से समझाया तथा इस विषय में उपभोक्ता के अधिकारों व कानूनी प्रक्रिया से निपटान करने के बारे में भी जागरूक किया।
मंच संचालन का कार्य प्रियंका अग्रवाल द्वारा सुचारू रूप से किया गया। उपकुलपति डा. आर.के चौहान व प्रो. डा. सुरेन्द्र ढींगरा ने उपभोक्ता सेमिनार में अपने विचार रखते हुए सेमिनार में विभाग के अन्य प्राध्यापक कीर्ति गुलाटी, प्रीति, स्वाती, सुषमा, वडेरसा तथा विद्यापीठ की रजिस्ट्रार सीमा एवं सीईओ प्रेमलता, आरके भारद्वाज व डा. केके शर्मा भी उपस्थित थे। इस मौके पर रिजर्व बैंक अधिकारियों द्वारा बैंकिंग से संबंधी क्विज का भी आयोजन किया गया तथा 30 छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया गया।

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here