सराय स्कूल में बच्चों को बताए सकारात्मक सोच के फायदे

0
24

Faridabad/Alive News : राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा में आज प्राचार्या नीलम कौशिक की अध्यक्षता में सकारात्मक सोच और अच्छे मानवीय गुण विषय पर कार्यक्रम आयोजित किया गया।

विद्यालय के इंग्लिश प्रवक्ता और जूनियर रेड क्रॉस अधिकारी रविंदर कुमार मनचंदा ने बताया कि जीवन में सकारात्मक सोच से अच्छे परिणाम आसानी से और बिना किसी तनाव के ही संभव हो सकते है सकारात्मक सोच सब से बड़ा मानवीय गुण है जीवन के हर पहलु को सकारात्मक सोच अर्थात पॉजिटिव थिंकिंग के माध्यम से हल करना बहुत ही सरल तो है, इस के लिए कड़े संयम की जरुरत पड़ती है, रविंदर कुमार मनचंदा ने बताया की

इस अवसर पर सतयुग दर्शन ट्रस्ट से विद्यालय में पधारी बिंदु ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए बताया कि सकारात्मक होने से हमारे ज्ञान में वृद्धि होती है प्लस यानि जमा और मल्टीप्लाई यानि गुणा से हमारे गुणों में बढ़ोतरी होती है जबकि माइनस और डिवीज़न से हमारे गुणों में गिरावट होती है इसलिए हम अच्छी बातें हमेशा ग्रहण करने का प्रयत्न करें,

उन्होंने इस अवसर पर चौथे इंटरनेशनल ह्यूमेंनिटी ओलिंपियाड में प्रतिभागिता के बारे में भी बताया, उन्होंने बच्चों को बताया की डब्लू डब्लू डब्लू डॉट ह्यूमैनिटी ओलिंपियाड डॉट ऑर्ग पर लोग इन कर के अपनी डिटेल भर कर दिए गए 25 बहुविकल्पीय प्रश्न हल कर के अपना पेपर ऑनलाइन सबमिट कर दे। इस परीक्षा में बेहतर पुरस्कार भी प्रपात कर सकते है। प्राचार्या नीलम कौशिक, रविंदर कुमार मनचंदा, शारदा, राजेश कुमार व् अन्य सभी अध्यापकों ने सतयुग दर्शन ट्रस्ट से आये हुए सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here