सावधान! इन गलतियों से कही आप भी ना हो जाए साइबर क्राइम के शिकार

0
92

Faridabad /Alive News: एक तरफ लॉकडाउन में जहां ऑनलाइन ट्रांस्जेक्शन को बढ़ावा मिला है वही साइबर क्राइम के मामलों में भी जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। देश में साइबर क्राइम के आंकड़ें लगातार बढ़ते जा रहे है। आए दिन लोगों के खातों में से धोखाधड़ी कर लाखों रुपए निकाल लिए जाते है लेकिन साइबर वर्ल्ड की जटिलताओं व कानून में कमी होने के कारण कोई ठोस कार्यवाही भी नहीं हो पाती।

दरसअल, लॉकडाउन में शारीरिक दूरी बनाए रखने के लिए सरकार द्वारा ऑनलाइन ट्रांस्जेक्शन को बढ़ावा दिया जा रहा है जिससे समाज के एक ही तबके को फायदा मिला है। समाज के अन्य तबके तकनीकी शिक्षा के अभाव के कारण साइबर क्राइम या फिर ठगी का शिकार हो जाते है। लिंक पर क्लिक करते ही लोगों की जीवन भर की जमा- पूँजी किसी और के बैंक खातें में ट्रांसफर हो जाती है। ऐसे में सरकार की यह अपील लोगों के लिए फायदेमंद कम हानिकारक ज्यादा सिद्ध हो रही है।

साइबर क्राइम के प्रकार
एटीएम का पासवर्ड बदल बैंक अकाउंट से रुपये निकाल लेना।
फर्जी ईमेल आईडी बनाकर नाम का दुरुपयोग करना ।
व्यक्ति के फेसबुक अकाउंट से छेड़छाड़ या उसकी अश्लील फोटो व वीडियो अपलोड करना।
ऑनलाइन शॉपिंग के जरिये ग्राहकों से ठगी करना ।
सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल कर ब्लैकमेल करना या धमकी देना इत्यादि शामिल है।

साइबर क्राइम से बचने के उपाय
किसी भी व्यक्ति को अपनी निजी जानकारी जैसे एटीएम का पासवर्ड, और ओटीपी इत्यादि न दे।
अपने फेसबुक, व्हाट्सप्प या अन्य साइट का पासवर्ड किसी को भी न बताए।
हैकिंग की ज्यादातर घटनाएं वायरस के द्वारा होती है, अपने कंप्यूटर या फ़ोन को सुरक्षित रखें।
किसी भी अनजान लिंक को शेयर या ओपन न करे।
समय- समय पर पासवर्ड बदलते रहे।

Print Friendly, PDF & Email