Ranchi/Alive News : सीबीएसई परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक मामले में झारखंड के जिले चतरा की पुलिस ने निजी कोचिंग संचालक और दो शिक्षकों समेत नौ छात्रों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार नाबालिग छात्रों को जहां पुलिस ने बाल सुधार गृह हजारीबाग और कोचिंग संचालक, दो शिक्षकों को जेल भेज दिया है. पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में एसपी अखिलेश बी वारियर ने बताया कि शहर के कॉलेज रोड में संचालित स्टडी विजन नामक कोचिंग संस्थान के निदेशक सतीश पांडेय व पंकज सिंह द्वारा छात्रों से मोटी रकम वसूल कर परीक्षा से पूर्व प्रश्नपत्र उनके व्हाट्सएप पर उपलब्ध कराया गया था.

एसपी ने बताया कि संचालक के द्वारा प्रत्येक छात्र से पांच सौ से पांच हजार रुपये तक की वसूली की गई थी. उन्होंने बताया कि आरोपियों ने बिहार के पटना के दो युवकों से संपर्क कर सोशल मीडिया के माध्यम से प्रश्नपत्र लीक करवाया था. जिसके बाद संस्थान के शिक्षक के साथ मिलकर प्रश्नों के उत्तर भी छात्रों को उपलब्ध कराए गए.

एसपी ने बताया कि एसएसटी और विज्ञान के परीक्षा के दौरान जवाहर नवोदय विद्यालय परीक्षा केंद्र पर चार छात्रों को प्रश्नपत्र और उत्तरों के साथ पकड़ा गया था. जिसके बाद विद्यालय के प्रधानाध्यापक ने सदर थाने में आरोपी छात्रों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी. प्राथमिकी के आधार पर एसपी ने एसआईटी का गठन कर जांच को लेकर झारखंड और बिहार के कई जिलों में छापेमारी अभियान चलाकर मामले में संलिप्त युवकों व छात्रों को गिरफ्तार किया.

एसपी ने बताया कि एसआईटी अभी भी मामले की तह तक जाने का प्रयास कर रही है. प्रशिक्षु आईपीएस सौरव के नेतृत्व में गठित टीम झारखंड बिहार के कई जिलों में छापेमारी कर रही है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार सभी बच्चे जवाहर नवोदय विद्यालय वह डीएवी स्कूल के छात्र हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here