गर्वमेंट विद्यालय में मनाया प्राथमिक चिकित्सा दिवस मनाया

0
12

Faridabad/Alive News : सराय ख्वाजा स्थित गर्वमेंट विद्यालय में जूनियर रेड क्रॉस और सेंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड ने विश्व प्राथमिक चिकित्सा दिवस के अवसर पर विद्यालय के लगभग तीन हजार से भी अधिक बच्चों को प्राथमिक चिकित्सा के ज्ञान के फायदों के बारे में बताया।

इस मौके पर प्राचार्या नीलम कौशिक की अध्यक्षता में विद्यालय केजेआरसी व एसजेएबी प्रभारी रविन्दर कुमार मनचन्दा ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए बताया कि प्राथमिक चिकित्सा की जानकारी हम सब के लिए बहुत ही आवश्यक है हमारे देश में हर वर्ष लगभग एक लाख पचास हजार लोग सडक़ दुर्घटनाओं में काल के मुंह में समा जाते है, परंतु यदि सडक़ दुर्घटनाओं में घायल व्यक्तियों को समय पर प्राथमिक सहायता दे दी जाए तो इन मे से 75 प्रतिशत लोगों का अमूल्य जीवन बचाया जा सकेगा।

दुर्घटना के बाद के चंद मिनट गोल्डन पीरियड कहलाता है। यह गोल्डन पीरियड घायल या पीडि़त के जीवन को बचाने के लिए अनमोल होता है और फस्र्ट एड समय पर दिलवा कर घायल को हॉस्पिटल पहुंचा कर इस पुनीत कार्य को अंजाम दिया जा सकता है। मनचन्दा ने बच्चों को बताया कि सरकार और रेडक्रॉस की पहल पर अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए प्राथमिक चिकित्सा का प्रशिक्षण अनिवार्य कर दिया है। प्राथमिक चिकित्सा का प्रमाण पत्र संलग्न करने पर ही वाहन चलाने का लाइसेंस प्राप्त किया जा सकेगा।

बच्चों ने सुन्दर सुंदर पेंटिंग्स बना कर फस्र्ट एड में दक्ष होने का संदेश दिया। इस से पूर्व छात्र आनंद ने बच्चों को असेम्बली में प्राथमिक चिकित्सा क्यों आवश्यक है के बारे में विस्तार से अवगत करवाया। विद्यालय में भी समय समय पर फस्र्ट एड का प्रशिक्षण दिया जाता है। प्राचार्या नीलम कौशिक, रविन्दर कुमार मनचन्दा और रेणु शर्मा ने बच्चों से आग्रह किया कि आवश्यकता में प्राथमिक चिकित्सा के ज्ञान से किसी भी जरूरतमंद की जीवन रक्षा की जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here