एक वर्ष पूर्ण होने पर मनाया ‘जीएसटी दिवस’

0
17

New Delhi/Alive News : 1 जुलाई 2018 को अप्रत्यक्ष कर के क्षेत्र में ऐतिहासिक सुधार वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का एक साल पूरा हो रहा है। एक वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर एक जुलाई को ‘जीएसटी दिवस’ मनाया जाएगा। इस दिन यहां एक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, जिसको केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करेंगे।

जीएसटी के एक वर्ष पूरे होने के बाद भी लोगों में रेट को लेकर दुविधा की स्थिति बनी हुई है। आइए इस मौके पर एक बार फ‍िर जानते हैं, उस ऐप के बारे में जो आपको जीएसटी के बारे में सटीक जानकारी देगा। इस ऐप से न केवल व्यापारियों को हो रही परेशानी कम होगी। बल्कि नाजायज तरीके से ठगी पर भी रोक लगाने में सरकार को मदद मिलेगी।

कोई भी दुकानदार अथवा कारोबारी आपके साथ धोखाधड़ी नहीं कर सकता है। यह इसलिए भी जरूरी है क्‍योंकि एक वर्ष के दौरान जीएसटी परिषद ने कई उत्पादों के टैक्स रेट में बदलाव किया है। इसमें जहां कुछ उत्पादों व सेवाओं को ऊपरी टैक्स स्लैब से नीचे लाया गया है, वहीं, कुछ का रेट बढ़ा भी है।

‘जीएसटी रेट फाइंडर’ ऐप

1- GST Rate Finder ऐप ग्राहकों को किसी सामान या सेवा की खरीदारी से पहले उस पर लगाई गई जीएसटी रेट की पुष्टि करेगा, ताकि वे सही रेट की जांच कर ही भुगतान करें। यह उत्पादों व सेवाओं पर लगने वाले जीएसटी की भी सही जानकारी देगा।

2- इस ऐप को इस्तेमाल करने के लिए आपको इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत नहीं है। इसे आप एक बार डाउनलोड कर अपने स्मार्टफोन में रख सकते हैं और जब चाहें तब जानकारी हासिल कर सकते हैं।

3- ऐप में मूल्‍य के हिसाब से श्रेण‍ियां बनाई गई हैं। आप जिस श्रेणी के रेट्स चेक करना चाहते हैं या फिर किसी संबंध‍ित श्रेणी के उत्पादों का पता लगाना चाहते हैं, तो आप इसे देख सकते हैं।

4- ऐप में विभिन्न दरों के मुताबिक वस्तुओं को सात कैटेगरी में बांटा गया है। 0 परसेंट, 0.25 परसेंट, 3 परसेंट, 5 परसेंट, 12 परसेंट, 18 परसेंट और 28 परसेंट। इसी तरह, सेवाओं को भी 5 कैटिगरी में बांटा गया है। 0 परसेंट, 5 परसेंट, 12 परसेंट, 18 परसेंट और 28 परसेंट।

5- इसके साथ ही, अगर किसी खास वस्तु एवं सेवा पर लागू जीएसटी दर की जानकारी पाने के लिए सर्च ऑप्शन भी दिया गया है। यहां गुड्स एंड सर्विसेज के नाम पर सर्च कर उस पर लागू जीएसटी दर का पता किया जा सकता है।
6- यह ऑफ लाइन भी काम करेगा। यूजर्स किसी वस्तु या सेवा का नाम डालकर या संबंधित चैप्टर देख कर जीएसटी रेट के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं।

7- यह ऐप अगर आपके मोबाइल में रहेगा, तो कोई भी व्‍यापारी आप से फर्जी टैक्स नहीं वसूल सकेगा। इस तरह आप धोखाधड़ी से बच जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here