जीवा स्कूल में हर्षोल्लास से मनाया बैसाखी का पर्व

0
15

Faridabad/Alive News : सैक्टर-21बी स्थित जीवा पब्लिक स्कूल में प्रार्थना सभा के दौरान विद्यालय प्रांगण में भारत का महत्वपूर्ण त्योहार बैसाखी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्कूल में डा0 भीमराव अम्बेडकर की जयंती को भी समान रूप से मनाया गया। आज के इस कार्यक्रम में यह दर्शाया गया कि भारत विभिन्नताओं का देश है। यहाँ विभिन्नताओं में भी एकता पाई जाती है। कार्यक्रम के दौरान छात्रों ने बताया कि भारत में प्रत्येक ऋतु का अपना एक महत्व होता है क्योंकि यहां अलग-अलग ऋतुओं में अलग-अलग फसलें उगती हैं। भारत एक कृषि प्रधान देश है जहां फसलों के पककर तैयार होने पर भी त्योहार मनाने की परंपरा है। बैसाखी का त्योहार भी रवि की फसल पककर तैयार होने की खुशी में ही मनाया जाता है। हिन्दू रीति के अनुसार इसी दिन से हिंदुओं का नववर्ष भी आरंभ होता है। कार्यक्रम में छात्रों ने एक रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया।

छात्रों ने जो कार्यक्रम प्रस्तुत किया उसका मुख्य उदï्ïदेश्य यह दर्शाना था कि भारत देश में प्रत्येक त्योहार के साथ एक विशेष मान्यता जुड़ी होती है। सर्वप्रथम छात्रों ने एक सुविचार प्रस्तुत किया। छात्रों ने देश के सभी राज्यों में मनाये जाने वाले नव वर्ष की विशेषता को बताया। प्राइमरी के छात्रों ने बैसाखी के उपलक्ष्य में एक नृत्य भी प्रस्तुत किया। छात्रों ने डॉ0 भीमराव अम्बेडकर के विषय में भी बताया। किंडरगार्टन के नन्हें-मुन्नें छात्रों ने भी सुंदर-सुंदर परिधान पहनकर कार्यक्रम प्रस्तुत किया।

इस अवसर पर विद्यालय के अध्यक्ष श्री ऋषिपाल चौहान ने सभी छात्रों, अध्यापक एवं अध्यापिकाओं को बैसाखी के उपलक्ष्य में शुभ संदेश दिया। उन्होंने कहा कि जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए निरंतर कार्यरत रहना आवश्यक है परन्तु फिर भी कई बार सफलता प्राप्त नहीं हो पाती है। इसका कारण होता है कि प्रयास में कहीं कुछ अवश्य कमी रहती है। हमें सफलता प्राप्त करने के लिए अपने कार्य के प्रति समर्पित भावना रखनी चाहिए। सच्चाई के मार्ग को अपनाना चाहिए तभी हमें ईश्वर का आशीर्वाद प्राप्त होता है और प्रत्येक काम में सफलता प्राप्त होती है।

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here