चेयरमैन और पार्षद में हुई धक्कामुक्की, मामला पुलिस तक पहुंचा

0
73

Faridabad/Alive News : सोमवार को जिला परिषद की बैठक रद्द होने के बाद जिला परिषद अध्यक्ष चमेली देवी और पार्षद आशावती के बीच धक्कामुक्की हो गई। दोनों तरफ से जिसकी शिकायत पुलिस में दी गई है। खबर लिखे जाने तक पुलिस की तरफ से किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हुई, लेकिन इस घटना दिनभर चर्चा होती रही।21 मार्च 2018 के बाद सोमवार को जिला परिषद की बैठक बुलाई गई। लेकिन जिला परिषद के सीईओ एडीसी सुरेन्द्र कुमार के अचानक छुट्टी पर चले गए।

जिसकी वजह से बैठक नहीं हुई। बैठक रद्द होने की सूचना मिलते ही पार्षदोंे का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। इस दौरा पार्षद तथा जिला परिषद चेयरमैन में बैठक रदद होने को लेकर बहस शुरू हो गई। जो बाद में धक्कामुक्की तक पहुंच गई। इसके बाद जिला परिषद की चैयरमैन चमेली देवी गाड़ी में बैठकर जाने लगी तो उसे देख महिला पार्षद आशावती ने अध्यक्षा को गाड़ी से उतरकर पार्षदों की बात सुनने के आग्रह किया, तभी अध्यक्ष की गाड़ी के चालक ने गाड़ी को चला दिया। आरोप है कि इसकी वजह से महिला पार्षद आशावती नीचे गिर पड़ी। इस बारे में उसने पुलिस को शिकायत दी है।

उधर जिला परिषद की चेयरमैन चमेली देवी सोलंकी ने भी पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि जब वह गाड़ी में बैठकर जाने लगी तो आशावती ने उनको जबरन गाड़ी से खींचने का प्रयास किया। शिकायत में आरोप लगाए की आशावाती पार्षद ने साजिश के तहत उन पर हमले का प्रयास किया। चेयरमैन का आरोप है कि मौजूद कुछ पार्षदों और लोगों ने उन्हें अपशब्द कहे।

उनका कहना है कि अचानक एडीसी के छुट्टी पर चले जाने के कारण मीटिंग को रद्द कर दिया गया। बैठक को लेकर चल रही है खींचतानसोमवार को बैठक रद्द होने से पार्षदों का गुस्सा जरूर फूट गया, लेकिन लंबे समय से बैठक नहीं होने को लेकर पार्षद और चेयरमैन के बीच नाराजगी काफी दिनों से चल रही है, जो सोमवार को सड़क पर आ गई।

पार्षद काफी समय से बैठक करवाने की मांग कर रहे हैं ताकि जिले में विकास कार्य करवाए जा सके, लेकिन बैठक नहीं होने से पार्षद विकास कार्य नहीं करवा पा रहे हैं। इससे लोगों के बीच पार्षदों के प्रति नाराजगी बढ़ती जा रही है। दूसरी तरफ अधिकारियों की गैर माजूदगी को भी इसकी एक वजह बताया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here