मुख्यमंत्री मनोहर लाल 1 मार्च को करेंगे हरियाणा कला परिषद के मुख्यालय का शुभारम्भ

0
61

Kurukshetra/Alive News: हरियाणा कला परिषद के मुख्य सलाहकार प्रोफेसर संजय बसीन ने कहा कि धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र को हरियाणा के सांस्कृतिक केन्द्र के रुप में बनाने की योजना तैयार कर ली है। इस योजना के तहत कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर ही संगीत नाटक अकेडमी की शाखा को स्थापित करने का प्रस्ताव तैयार किया है। इस प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल की मोहर लगते ही योजना को अमलीजामा पहना दिया जाएगा। इतना ही नहीं हरियाणा कला परिषद का मुख्यालय चंडीगढ़ से शिफ्ट कर कुरुक्षेत्र के मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर के रुप में स्थापित किया गया है। इस हरियाणा कला परिषद मुख्यालय का कुरुक्षेत्र में शुभारम्भ 1 मार्च को मुख्यमंत्री मनोहर लाल करेंगे। अहम पहलु यह है कि 1 मार्च से मल्टी आर्ट कल्चरल सेटर का नाम बदलकर कलाकृति भवन रख दिया जाएगा।

मुख्य सलाहकार प्रोफेसर संजय बसीन ने बुधवार को मैक के सभागार में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने कुरुक्षेत्र को सांस्कृतिक हब के रुप में स्थापित करने की पहल शुरु कर दी है। इस पहल के तहत हरियाणा कला परिषद का मुख्य कार्यालय चंडीगढ़ से बदलकर कुरुक्षेत्र के मैक में स्थापित कर दिया गया है। इस मुख्यालय का शुभारम्भ मुख्यमंत्री मनोहर लाल 1 मार्च को दोपहर के समय करेंगे। इसके साथ ही मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर का नाम बदलकर कलाकृति भवन रख दिया गया है और इसका श्रीगणेश भी 1 मार्च से किया जाएगा।

इस धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र में हरियाणा कला परिषद को एक नया स्वरुप दिया जाएगा। इसके लिए नाटक, संगीत, नृत्य और ललित कला के क्षेत्र में युवाओं को तराशने के लिए हर क्षेत्र के लिए एक कोर्डिनेटर को नियुक्त करने की स्वीकृति भी प्रदान कर दी है। इस परिषद के प्रयासों से हरियाणा की लुप्त कलाओं को सरंक्षित करने का काम किया जाएगा और कलाकारों को एक मंच मुहैया करवाया जाएगा ताकि इस प्रदेश की सांस्कृतिक विरासत को हमेशा संजोकर रखा जा सके। इन प्रयासों से कुरुक्षेत्र को सांस्कृतिक केन्द्र के रुप में एक पहचान मिलेगी और इस सांस्कृतिक केेन्द्र से पूरी दुनिया को हरियाणा की संस्कृति से आत्मसात करने का एक सुनहरी अवसर भी मिल पाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से हरियाणा प्रदेश में संस्कृति को बढ़ावा देने और पूरे प्रदेश में निरंतर कलाकारों को सुनहरी अवसर देने के लिए 20 करोड़ रुपए का बजट भी पारित किया है, यह बजट मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से ही हरियाणा कला परिषद को उपलब्ध करवाया गया है। इसके साथ ही हरियाणा कला परिषद के संचालन के लिए 20 करोड़ रुपए की एफडी के लिए भी बजट उपलब्ध करवाया है। इस परिषद के मुख्यालय के कार्य का सुचारु रुप से संचालन करने के लिए लगभग 50 कर्मचारियों का स्टाफ भी नियुक्त किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार ने कला और संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर की स्थापना की थी। इस मौके पर अम्बाला जोन के क्षेत्रिय निदेशक नागेन्द्र शर्मा भी उपस्थित थे।

Print Friendly, PDF & Email