गुरुग्राम के स्कूल में कट्टा ले पहुंचा दसवीं का छात्र

0
17

प्रिंसिपल की जांच के दौरान बैग में मिला कट्टा, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

Gurugram/Alive News : जैकबपुरा स्थित माड़ूमल सीनियर सेकेंडरी स्कूल में दसवीं कक्षा के एक छात्र के बैग से कट्टा मिलने पर उसे व उसके दोस्त, जिससे वह कट्टा लेकर आया था, को सिटी थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर बुधवार को अदालत में पेश किया, जहां से दोनों को न्यायिक हिरासत में भोंडसी जेल भेज दिया गया। आरोपी छात्र की उम्र 18 साल छह महीने है। पूछताछ में उसने बताया कि वह कट्टा शौक से लेकर आया था।

दरअसल स्कूल की ¨प्रसिपल ने कई दिन पहले स्पष्ट कर दिया था कि कोई भी छात्र किसी भी छात्र को होली को देखते हुए गुलाल नहीं लगाएगा। इसके लिए सभी को गुलाल लेकर आने पर मनाही है। कहीं कोई छात्र या छात्र गुलाल लेकर तो नहीं आया है, इसकी पड़ताल के लिए ¨प्रसिपल मंगलवार सुबह सभी के बैग की जांच कर रही थीं। जब वह दसवीं कक्षा के छात्र के पास पहुंचीं तो वह सहम गया। उसने कुछ दूरी पर बैग को रख दिया था ताकि जांच से बच सके।

¨प्रसिपल ने कड़ाई से बैग के बारे में पूछताछ करते हुए चेक किया तो उसमें से कट्टा मिला। तत्काल पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलते ही सिटी थाना पुलिस पहुंच गई और छात्र को गिरफ्तार कर लिया गया। जांच अधिकारी सुरेंद्र ने बताया कि छात्र मूल रूप से गांव झाड़सा का रहने वाला है। पूछताछ में उसने बताया कि मूल रूप से उत्तर प्रदेश के मथुरा निवासी 21 वर्षीय आशीष उसका दोस्त है। वह उसका पड़ोसी है। वह शौक में उससे कट्टा लेकर आया था।

इसके बाद मंगलवार रात में ही आशीष को गांव झाड़सा से गिरफ्तार कर लिया गया। वह मथुरा से कट्टा बेचने के लिए लाया था। पूछताछ के दौरान दोनों को भोंडसी जेल भेज दिया गया। छात्र की उम्र 18 साल छह महीने है। इस आधार पर उसे भी वयस्क मानते हुए न्यायालय ने भोंडसी जेल भेज दिया। इतनी कम उम्र में छात्र दसवीं कक्षा में ही कैसे, इस सवाल का जवाब न ही प्रबंधन सही से दे रहा है और न ही पुलिस दे रही है।

“जैसे ही छात्र के बैग में कट्टा मिला, पुलिस को सूचना दी गई। उसके खिलाफ मामला दर्ज कराया गया। पुलिस को जांच में जिस स्तर पर सहयोग चाहिए, सहयोग दिया जाएगा। किसी भी हाल में अनुशासन से समझौता बर्दाश्त नहीं।”
– मनोज गुप्ता, सचिव, माड़ूमल सीनियर सेकेंडरी स्कूल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here