कांग्रेस नहीं देगी राजस्थान विधानसभा चुनाव में टिकट

0
38

Jaipur/Alive News : लगातार दो चुनाव हारने वाले नेताओं को कांग्रेस राजस्थान विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं देगी । इसके साथ ही वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में 30 हजार से अधिक मतों से हारने वाले नेताओं को भी टिकट नहीं दिया जाएगा। करीब 5 माह बाद होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस नेतृत्व ने फार्मूला तैयार कर लिया है ।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) अशोक गहलोत, प्रदेश प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडे और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट की पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से हुई मुलाकात के बाद लागातर दो चुनाव हारने वालों को टिकट नहीं देने का फार्मूला तैयार किया गया है। सचिन पायलट ने अलग से भी राहुल गांधी से मुलाकात की है।

इस मुलाकात के दौरान सचिन पायलट ने “मेरा बूथ मेरा गौरव” अभियान की जानकारी दी। जानकारी के अनुसार आगामी दिनों में प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी में नए पदाधिकारियों की नियुक्ति होगी, इनमें पायलट की पसंद को महत्व दिया जाएगा । पीसीसी अध्यक्ष की हैसियत से सचिन पायलट के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की बात कहने वाले कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव डॉ.सी.पी.जोशी ने राहुल गांधी से पायलट की पसंद के अनुसार संगठन में नियुक्तियां करने की बात कही बताई।

कांग्रेस के एक राष्ट्रीय महासचिव के अनुसार लगातार दो चुनाव हारने वाले नेताओं को आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं देने का फार्मूला काफी सोच-विचार कर के तय किया गया है,अब इसमें किसी प्रकार का समझौता नहीं होगा । उन्होंने बताया कि गुजरात विधानसभा चुनाव में भी यही फार्मूला तय किया गया था ।

अगर यह फार्मूला लागू होता है तो कांग्रेस के कई बड़े नेता टिकट की रेस से बाहर हो जाएंगे । इनमें राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष ममता शर्मा,पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.बी.डी.कल्ला,डॉ.चन्द्रभान,दिग्गज जाट नेता रिछपाल मिर्धा,पूर्व विधायक संयम लोढ़ा,चन्द्रशेखर बैद,रामचन्द्र सराधना,बनवारी लाल शर्मा एवं गुजरात की पूर्व राज्यपाल श्रीमती कमला के पुत्र आलोक बेनीवाल शामिल है ।

राहुल गांधी के दफ्तर भेजी ऐसे नेताओं की सूची

बताया जा रहा है कि प्रदेश नेतृत्व ने लगातार दो बार चुनाव हारने वाले नेताओं की सूची राहुल गांधी के दफ्तर में भेज दी है। ऐसे नेताओं को उनका उपयोग संगठन अथवा सत्ता में आने के बाद सरकार में करने का आश्वासन दिल्ली बुलाकर दिया जाएगा । इन नेताओं को अगले माह राहुल गांधी दिल्ली बुलाकार बात करेंगे।

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here