कोरोना : जे.सी. बोस विश्वविद्यालय के शिक्षक और कर्मचारी देंगे 10 प्रतिशत सैलरी

0
33
Sponsored Advertisement

Faridabad/Alive News : जे.सी. बोस विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, वाईएमसीए, फरीदाबाद के शैक्षणिक तथा गैर शैक्षणिक कर्मचारियों ने हरियाणा सरकार द्वारा स्थापित ‘हरियाणा कोविड-19 रिलीफ फंड’ के लिए अपने 10 प्रतिशत वेतन का योगदान देने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार द्वारा फंड की स्थापना कोरोनावायरस के प्रकोप से प्रभावित लोगों को राहत पहुंचाने के उद्देश्य से की गई है।

कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने देश में कोरोनावायरस बढ़ रहे संक्रमण पर गहरी चिंता व्यक्त की तथा विश्वविद्यालय के कर्मचारियों द्वारा कोरोनावायरस के प्रकोप से बचाव में मदद करने के लिए स्वैच्छिक योगदान देने के प्रयासों की सराहना की है। उन्होंने समाज के समक्ष लोगों से भी कोरोना से राहत के लिए योगदान देने का आह्वान किया है।

कुलपति ने कहा है कि विश्वविद्यालय लॉकडाउन अवधि के दौरान अपने अनुबंधित एवं आउटसोर्स कर्मचारियों के वेतन में कोई कटौती नहीं करेगा। उन्होंने विश्वविद्यालय के कर्मचारियों से भी अपील की है कि वे अपने घरेलू नौकर, कार क्लीनर और उनके लिए काम कर रहे अन्य लोगों की मजदूरी में किसी तरह की कटौती न करें बल्कि इस मुश्किल समय में उनको जरूरी वस्तुएं प्रदान कर उनकी मदद करें। उन्होंने कहा कि इस राष्ट्रीय आपदा से निपटने के लिए हम सभी को एकजुट होकर प्रयास करने होंगे।

Print Friendly, PDF & Email