कोरोना : मरीजों का ग्राफ बढ़ा, इन 6 राज्यों में सबसे ज्यादा केस

0
16
Sponsored Advertisement

New Delhi/Alive News : भारत में कोरोना संक्रमण को लेकर एक बार फिर चिंता बढ़ती नजर आ रही है. पिछले हफ्ते से देश में कोरोना के एक्टिव मामलों का ग्राफ फिर ऊपर चढ़ने लगा है. कोरोना के एक्टिव मामले एक लाख 43 हजार के पार पहुंच गए हैं, जो 16 फरवरी को एक लाख 36 हजार थे. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक और मध्य प्रदेश में कोविड-19 के नए मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. इन 6 राज्यों से 86.69% फीसदी नए केस सामने आए हैं. जिसमें महाराष्ट्र और केरल में 75.87% एक्टिव केस हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 97.27 प्रतिशत जबकि मृत्यु दर 1.42 प्रतिशत है. देश में 1 लाख 43 हजार से अधिक एक्टिव केस हैं जो कुल मामलों का 1.27 प्रतिशत है.

मुंबई में 1300 से अधिक बिल्डिंग सील
मुंबई में कोरोना का संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है. जिसकी वजह से BMC ने बड़ा कदम उठाया है. महानगरपालिका ने 1305 इमारतों को सील कर दिया है. इन इमारतों में 71,838 परिवार रहते हैं. मुंबई में 2749 केस आने के बाद बीएमसी ने यह फैसला लिया है. तीन दिन पहले मुंबई के लिए नई गाइडलाइन जारी की गई थी. इसमें कहा गया था कि यदि किसी बिल्डिंग में पांच या उससे ज्यादा कोरोना केस मिलते हैं तो पूरी बिल्डिंग को सील कर दिया जाएगा.

अब तक कितने लोगों का वैक्सीनेशन?
भारत में अब तक कोरोना वैक्सीन की 1 करोड़ 8 लाख से ज्यादा डोज लोगों की दी जा चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि शनिवार को 1.86 लाख लोगों का वैक्सीनेशन हुआ. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार अब तक दी गई एक करोड़ 08 लाख 38 हजार 323 खुराक (1,08,38,323) में 72,26,653 डोज स्वास्थ्य कर्मियों को और 36,11,670 खुराक अग्रिम मोर्चे के कर्मियों को दी गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार वैक्सीन की 70,52,845 डोज में 63,52,713 स्वास्थ्य कर्मियों को पहली डोज के तहत दी गई, जबकि 8,73,940 स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरी डोज दी गई.

Print Friendly, PDF & Email
Sponsored Advertisement