डी.पी. स्कूल में एम.आर टीकाकरण का आयोजन

0
290

Faridabad/Alive News: सेहतपुर स्थित डी.पी. स्कूल में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, स्वास्थ्य विभाग, हरियाणा की ओर से खसरा और रुबैला टीकाकरण अभियान आयोजित किया गया। इस अभियान में 9 वर्ष से 15 वर्ष तक के तक़रीबन सैकङो बच्चों को टीकाकरण किया गया।

 

स्कूल के चैयरमैन मनोज सिंह की अध्यक्षता में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. टीकाकरण कर रहे डॉक्टरों की टीमने ने बताया कि खसरा किसी भी परिवार में फैल सकता है। कफ, काराईजा और कन्जक्टिवाइटिस मुख्‍य रूप से इसकी पहचान होते हैं। मुंह में तालू पर सफेद धब्बे भी नजर आते हैं। यह श्वसन से फैलने वाली बीमारी है और संक्रमित व्यक्ति के मुंह और नाक से बहते द्रव के सीधे या व्यक्ति के संपर्क क्षेत्र में आने से होती है।

डॉक्टरों ने बताया कि खसरे के लक्षण कई बार इतने सामान्‍य होते हैं कि यह बीमारी पकड़ में ही नहीं आती। खासतौर पर बच्‍चों में इस बीमारी के लक्षणों की पहचान कर पाना कई बार बहुत ही मुश्किल हो जाता है। इस बीमारी के लक्षण फौरन पकड़ में भी नहीं आते। वायरस के हमले के करीब दो से तीन हफ्ते के बाद ही इस बीमारी की पहचान सम्‍भव हो पाती है। उन्होंने कहा कि ये लक्षण दो से तीन दिन तक रहते हैं- यदि यह गर्भवती महिला को होता है तो इससे गर्भ में बच्चे की जान चली जा सकती है, जिसका समय रहते पता न चलने पर महिला की जान को भी खतरा हो सकता है, अथवा बच्चा बर्थ डिफेक्ट के साथ पैदा होता है।
इस मौके पर चेयरमैन मनोज सिंह और अभिभावक गण की सहमति ने इस अभियान को सफल बनाने में पूरा सहयोग दिया।

Print Friendly, PDF & Email