New Delhi/Alive News : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सार्वजनिक बसों और मेट्रो की सवारी के लिए सोमवार (08 जनवरी) को एक कार्ड जारी किया और इसे शहर के परिवहन क्षेत्र में एक बड़ा कदम करार दिया. यह कार्ड मेट्रो और बस दोनों में चलेगा. दिल्ली देश में पहला शहर है जहां पर एक कॉमन मोबिलिटी कार्ड का इस्तेमाल होगा जिसका इस्तेमाल मेट्रो के अलावा इस समय विभिन्न मार्गों पर चलने वाले 200 डीटीसी और 50 क्लस्टर बसों में किया जा सकेगा. विभिन्न मार्गों पर चल रही दिल्ली परिवहन निगम के राजघाट डिपो-1 और रोहिणी डिपो-1 की बसें और कलस्टर बस सेवा के बीबीएम डिपो-2 की बसों में इस समय यह सुविधा होगी.

एक चैनल के अनुसार इस अवसर पर डीटीसी की एक बस में थोड़ी दूर की यात्रा के बाद केजरीवाल ने कहा, ‘‘परिवहन क्षेत्र में यह एक बड़ा कदम है जिससे दिल्ली में लोगों को सहज यात्रा की सुविधा मिल सकेगी.’’ यह कार्ड एक अप्रैल से सभी डीटीसी और क्लस्टर बसों में डेबिट कार्ड की तरह इस्तेमाल किया जा सकेगा. शहर में इस समय करीब 3,900 डीटीसी और 1,600 क्लस्टर बसें हैं. इससे दिल्ली सरकार और डीएमआरसी बसों में किराये के भुगतान की खातिर मेट्रो स्मार्ट कार्ड को कॉमन मॉबिलिटी कार्ड के रूप में इस्तेमाल के लिए अधिकृत करने पर सहमत हो गए थे.

अधिकारी ने कहा कि बस कंडक्टरों के पास इलेक्ट्रॉनिक टिकटिंग मशीन होंगे और यात्री किराये के भुगतान के लिए स्मार्ट कार्ड उस मशीन से लगाना होगा. स्मार्ट कार्ड दिल्ली मेट्रो के किसी भी स्टेशन से खरीदे जा सकते हैं. कॉमन मॉबिलिटी कार्ड सभी अंतरराज्यीय बस टर्मिनल, रेलवे स्टेशनों और दिल्ली परिवहन विभाग के पर्यटक सूचना केंद्रों में आने वाले महीनों में उपलब्ध कराए जाएंगे. इस परियोजना की शुरूआत के मौके पर परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत और दिल्ली सरकार एवं दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के शीर्ष अधिकारी भी मौजूद थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here