एक्सीलैंस इन एजुकेशन अवार्ड से नवाजे जाएंगे फौगाट स्कूल के निदेशक सतीश फौगाट

0
95

Faridabad/Alive News: लंदन के हाउस ऑफ कॉमन्स में सम्मानित होने के बाद फरीदाबाद के शिक्षाविद सतीश फौगाट को 19 जनवरी को चंडीगढ़ के होटल ताज में फिर से शिक्षा के क्षेत्र में उत्कर्ष कार्य करने पर सम्मानित किया जा रहा है। चंडीगढ़ में उन्हें एक्सीलैंस इन एजुकेशन अवॉर्ड नवाजा जाएगा। सीनियर सेकंडरी स्कूलों की श्रेणी में उन्हें यह अवॉर्ड प्रदेश के उपमुख्यमंत्री एवं जजपा सुप्रीमो दुष्यंत चौटाला द्वारा प्रदान किया जाएगा। यह अवार्ड कार्यक्रम यूरेका ग्लोबल एसेसर्स द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में प्रतिष्ठित अवॉर्ड है।

बल्लभगढ़ राजीव कॉलोनी स्थित फौगाट सीनियर सेकंडरी पब्लिक स्कूल के निदेशक सतीश फौगाट ने बताया कि उन्हें संस्था की ओर से इस समारोह में शामिल होने का निमंत्रण आया है। इस अवॉर्ड समारोह में 26/11 और कारगिल वार के हीरो कमांडो रामेश्वर श्योराण एवं आयरन लेडी प्रोफेसर कविता सिंह की भी उपस्थिति रहेगी।

सरकारी स्कूल में शिक्षक की नौकरी छोडक़र अपना स्कूल शुरू करने वाले सतीश फौगाट फिलॉसफी और अंग्रेजी में स्नातकोत्तर हैं। बहुत सीमित संसाधनों में उच्च स्तरीय शिक्षा देने वाले फौगाट को हाल ही में नोएडा की इंटेलिजेंट माइंड्स ग्रुप ट्रस्ट ने लंदन के हाउस ऑफ कॉमन्स में सम्मानित किया था। इस सम्मान समारोह के लिए पूरी दुनिया से लोगों का चयन किया गया था।

फौगाट ने बताया कि वह साधनों का मुंह नहीं ताकते और यही उनकी ताकत है। उनके अनुसार वह समाज को अपना सर्वस्व देना चाहते हैं और यह सर्वस्व देने के लिए उन्होंने शिक्षा को चुना है। उन्होंने बताया कि वह केवल शिक्षा के क्षेत्र में ईमानदारी से कार्य करते हैं, इसलिए उन्हें सम्मान की श्रेणी में शामिल किया जाता है।

उन्होंने बताया कि स्कूल में बेटियों के दाखिले निशुल्क लिये जाते है और वह करीब 300 बेटियों को निशुल्क शिक्षा भी प्रदान कर रहे हैं। इसके साथ ही करीब एक दर्जन संस्थाओं से जुडक़र भी वह सामाजिक, सांस्कृतिक, आध्यात्मिक कार्यों में लगे रहते हैं। फौगाट ने बताया कि वह स्कूल में एक यज्ञशाला का निर्माण करवा रहे हैं। जहां पर प्रतिदिन हवन होंगे। इससे जहां संस्कार और संस्कृति का प्रचार होगा, वहीं वातावरण भी शुद्ध रहेगा।

Print Friendly, PDF & Email