शिक्षाविद् रो.नरेन्द्र परमार की माताजी की रस्म पगड़ी रविवार 25 फरवरी को होगी

0
26

Faridabad/Alive News : मार्डन बी.पी. पब्लिक स्कूल के चेयरमैन ओ.पी. परमार की धर्मपत्नी एवं पाईनवुड इंटरनेशनल बोर्डिंग स्कूल के प्रिंसिपल व रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद इंडस्ट्रियल टाऊन के सदस्य नरेन्द्र परमार की माताजी श्रीमति प्रेमकुमारी परमार (65) की रस्म पगड़ी रविवार, 25 फरवरी को जवाहर कालोनी के सनातन धर्म मंदिर में दोपहर 3 से 4.30 बजे तक रखी गई है।

गौरतलब रहे कि श्रीमति प्रेमकुमारी परमार अपनी सांसारिक यात्रा पूर्ण कर वीरवार की शाम करीब 8.30 बजे ब्रह्मलीन हो गई हैं। उनका अंतिम संस्कार प्याली चौक स्थित शमशान घाट पर सुबह पूर्ण रीति-रिवाज के साथ किया गया था। उनको उनके बड़े बेटे धर्मेंद्र परमार ने मुखाग्नि दी थी। श्रीमति परमार अपने पीछे अपने पति ओ.पी. परमार व तीन बेटों धर्मेंद्र परमार, नरेन्द्र परमार व जितेन्द्र परमार सहित भरा-पूरा परिवार छोड़ गई हैं।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री आफताब अहमद, उनके भाई मेहताब अहमद, ए.सी.चौधरी, शिवचरण लाल शर्मा, पूर्व डिप्टी मेयर मुकेश शर्मा, विधायक नगेन्द्र भड़ाना, भाजपा नेता यशवीर डागर, रोटरी क्लब ऑफ फरीदाबाद इंडस्ट्रियल टाऊन के प्रधान नवीन गुप्ता, सचिव डॉ.सुमित वर्मा, कोषाध्यक्ष महेन्द्र बब्बर, डॉ० सुभाष श्योराण, आकाश बहल, अतुल देव सर्राफ, भूपेन्द्र श्योराण, एचपीएससी के प्रदेश अध्यक्ष एस.एस. गोंसाई, जिला अध्यक्ष सुरेश चन्द्र, शिक्षाविद् टी.एस. दलाल, संजय अत्री, अरुण पुंडीर, सरपंच मुमताज, नारायण डागर आदि विशेष तौर पर मौजूद थे।

जानकारी के मुताबिक परमार पिछले काफी सालों बीमार चल रही थी। पिछले कुछ दिनों से उनका सेक्टर-16 के क्यूआरजी हॉस्पिटल में ईलाज चल रहा था। बुधवार को उन्हें घर ले आया गया जहां उन्होंने कल वीरवार की शाम करीब 8.30 बजे अपनी अंतिम सांस ली।

शिक्षाविद्व नरेंद्र परमार उर्फ की माताजी के निधन पर रोटरी क्लब के सतीश फौगाट, उपाध्यक्ष सुभाष जैन, पूर्व प्रधान एस.पी. सिंह, महेंद्र सर्राफ, विजय गांधी, दीपक यादव, भारत भूषण शर्मा, संजय गर्ग, प्रमोद मैनी, अंकित अग्रवाल, सौरभ मित्तल, एच.के. गोयल, संजीव सूद, लवली पांचाल, संजीव आहूजा, संजय मेंदीरत्ता, बी.डी.शर्मा, सहित शिक्षा जगत, राजनैतिक दलों के नेताओं तथा विभिन्न सामाजिक व धार्मिक संगठनों के पदाधिकरियों ने गहरा शोक व्यक्त करते हुए उन्हें यह दु:ख सहने की शक्ति प्रदान करने की बात कही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here