पहले गड्ढे और अब नालियों का गंदा पानी, प्रशासन करें मुजेसर-वाईएमसीए सड़क पर मेहरबानी

0
32
मुजेसर-वाईएमसीए सड़क
Sponsored Advertisement

Nibha Rajak/Alive News
Faridabad : दो-दो फीट के गड्ढे नाली का गंदा पानी कुछ ऐसी ही है मुजेसर और इंदिरा कॉलोनी को वाईएमसीए से जोड़ने वाली सड़क की कहानी। वार्ड नंबर 13 में आने वाली इस सड़क की कहानी बहुत पुरानी है। कितने पार्षद आए और गए लेकिन इस सड़क के हालात नहीं बदले। इस सड़क पर बारहों मास नालियों का गंदा पानी भरा रहता है। लेकिन इस सड़क की तरफ ना तो जनप्रितिनिधि और ना ही नगर निगम के अधिकारियों का ध्यान जा रहा है।

आपको बता दें कि मुजेसर फाटक और इंदिरा कॉलोनी को राष्ट्रीय राजमार्ग से जोड़ने वाली इस सड़क से प्रतिदिन हजारों की संख्या आमजन आवागमन करते है। लोग नालियों के गंदे पानी और गड्ढों से दो चार होते हुए अपने गंतव्य तक पहुंचते है। औद्योगिक क्षेत्र होने के कारण इस सड़क से आमजन के अलावा भारी वाहन भी गुजरते है। ऐसे में टूटी सड़क और ऊपर से नालियों का गंदा पानी लोगों में परेशानी का सबब बना हुआ है। इस सड़क से गुजरने वाले हर रोज लोग दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। टूटी सड़क और जलभराव से वाहन फाटक बंद होने के कारण घंटो नालियों के गंदे पानी में खड़े रहते है।

आखिर क्यों नहीं हो रहा सड़क का निर्माण
इस सड़क से आमजन जनप्रतिनिधियों और नगर निगम के अधिकारियों को कोसते हुए गुजरते है। सबके जहन में एक ही सवाल होता है कि आखिर इस का निर्माण क्यों नहीं हो रहा है? वार्ड 13 पूर्व पार्षद पूरन देवी रही हो या फिर अब की पार्षद सुमन भारती हो सड़क की दशा ज्यों की त्यों है। इसके पीछे का कारण अभी सामने नहीं आया है लेकिन पार्षद से संपर्क करने पर पता चला की इस सड़क और सीवर लाइन के निर्माण के लिए 35 लाख का एस्टीमेट पास हुआ है और जल्दी ही ये सड़क दुरुस्त हो जाएगी। बहरहाल, देखना ये है कि सड़क का निर्माण कार्य कब शुरू होता है।

क्या कहना है पार्षद का
मैंने इस सड़क को लेकर विधायक जी से बात की है। 35 लाख का एस्टीमेट पास हुआ है। पूरी सड़क में सीवर लाइन बिछाई जाएगी। जल्दी सड़क दुरुस्त हो जाएगी।
-सुमन भारती, पार्षद वार्ड नंबर-13

 

Print Friendly, PDF & Email
Sponsored Advertisement