गीत-संगीत की स्वर लहरियों से गूंजा मैक, मनाया 10वां वार्षिक उत्सव

0
29

Kurukshetra/Alive News: शहर में अपनी एक अलग पहचान बनाए हुए मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर ने अपना 10वां वार्षिक उत्सव मनाया। जिसमें अलग-अलग सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के माध्यम से कलाकारों ने कला को बढ़ावा देते हुए सभी को रोमांचित कर दिया। गौरतलब है कि वर्ष 2009 से मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर निरंतर कला एवं संस्कृति के विस्तार के लिए कार्य कर रहा है। पिछले 10 वर्षों में इस संस्थान के माध्यम से न केवल प्रदेश के कलाकारों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिला बल्कि अन्य राज्यों तथा विदेशी कलाकारों से भी रुबरु करवाने में इस संस्थान ने अपनी अहम भूमिका निभाई। मैक की भरतमुनि रंगशाला में आयोजित 10वीं वर्षगांठ के अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर पहली बार मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर के समस्त कर्मचारियों को मुख्यअतिथि के रुप में सम्मान मिला।

क्षेत्रीय निदेशक नागेद्र शर्मा ने 10वें वार्षिक उत्सव पर किसी भी अतिविशिष्ट व्यक्ति को मुख्यअतिथि के रुप में आमंत्रित न करके समस्त कर्मचारियों से दीप प्रज्जवलित करवाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ करवाया। वहीं दर्शक दीर्घा में भी समस्त कर्मचारी क्षेत्रीय निदेशक के साथ प्रथम पंक्ति में बैठे। सभी का स्वागत करते हुए नागेंद्र शर्मा ने अपने स्वागत भाषण में कहा कि हरियाणा कला परिषद् मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर अपने को सार्थक करते हुए प्रदेश में सांस्कृतिक बयार लाने में मुख्य भूमिका निभा रहा है।

मैक में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों से न केवल प्रदेश की संस्कृति को बल मिल रहा है बल्कि उभरते कलाकारों को भी मंच मिल रहा है। मैक को देश भर में प्रसिद्धि दिलाने में सभी कर्मचारियों का पूरा सहयोग रहा है। कार्यालय के कार्यों के अतिरिक्त सभी कार्यक्रमों को सफलतापूर्वक सम्पन्न करवाने में मैक कर्मचारी अपनी अहम भूमिका निभाते हैं, जिसके लिए सभी बधाई के पात्र हैं।

कार्यक्रम का संचालन विकास शर्मा द्वारा किया गया। 10वें वार्षिक उत्सव पर रंगबिरंगी लाईट से सजे मैक परिसर में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में पहली प्रस्तुति गणेश वंदना की रही। अंतर्राष्टीय स्तर की कलाकार सुकृति शर्मा ने अपने नृत्य के माध्यम से गणेश स्तुति की। वहीं अम्बाला के फोकमेनिया ग्रुप की कलाकारों ने पूनम भल्ला के निर्देशन में हरियाणवी नृत्य प्रस्तुत किया। सावन का मस्त यो मास री मन्ने पिया मिलन की आस री गीत पर थिरकती हुई महिला कलाकारों ने भरपूर वाहवाही लूटी।

कार्यक्रम में मैक के कलाकार समन्वयक हरमोहन कुमार ने भजन के माध्यम से चार चांद लगाए। विकास शर्मा के निर्देशन में तैयार नृत्य नाटिका कृष्ण से कुरुक्षेत्र तक में कलाकारों ने भगवान कृष्ण के जन्म से लेकर गीता उपदेश तक के मुख्य वृतांतो को अपने अभिनय के माध्यम से प्रस्तुत किया। वहीं हास्य कलाकार नरेश सागवाल व शिवकुमार किरमच ने भी अपनी हास्य चुटकियों से सभी को खूब गुदगुदाया। मैक के क्षेत्रीय निदेशक नागेंद्र शर्मा के निर्देशन में तैयार कोरियोग्राफी ने भी दर्शकों की भरपूर तालियां बटौरी। बालशोषण पर आधारित प्रस्तुति में छोटी बच्चियों के साथ होने वाले अन्याय को दिखाते हुए समाज को आईना दिखाने का प्रयास किया गया। सुकृति शर्मा के कत्थक नृत्य तथा काजल जांगड़ा के हरियाणवी नृत्य ने भी खूब वाहवाही लूटी। मैक कर्मचारी राजकुमारी ने भी अपनी रागनी के माध्यम से कार्यक्रम में उपस्थिति दर्ज कराई।

फोकमेनिया ग्रुप के पंजाबी लोक नृत्य में कलाकारों ने पंजाब के रंग दिखाए वहीं मनीष डोगरा के निर्देशन में तैयार नाटक अनुष्ठान में कलाकारों ने मध्यप्रदेश की भील जाति की परम्पराओं को दिखाने का प्रयास किया। कार्यक्रम के उपरांत मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर के समस्त कर्मचारियों को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा दर्शकों में पिछले दस वर्षों से निरंतर मैक के कार्यक्रम देखने आ रहे दर्शकों को भी मंच पर बुलाकर सम्मानित किया गया। दर्शकों में ओमपाल कश्यप, जुगलकिशोर, डा. अग्रवाल व कलावती ने अपने विचार सांझा किए तथा कार्यकम प्रस्तुत करने वाले सभी कलाकारों को स्मृति चिह्न भेंटकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर मैक कार्यालय प्रमुख धर्मपाल गुगलानी, ललित कला समन्वयक सीमा काम्बोज, अनुज, धर्मबीर, महेंद्र सिंह, रीना रानी, सुनीता, सतपाल, हीरालाल, बलविंद्र, विजय शर्मा, अजमेर सिंह, बृजशर्मा, अनिल भटनागर, सुधीर शर्मा, बलवान सिंह, शलिंद्र पराशर सहित कलाप्रेमी उपस्थित रहे।

Print Friendly, PDF & Email