New Delhi/Alive News : देश दुनिया की महान दिग्गज शख्सियतों को याद करने का दिन हो या कोई खास मौका सर्च इंजन गूगल  इसको अपने खास अंदाज डूडल बनाकर सेलीब्रेट करता है. इस बार गूगल ने ‘मल्लिका-ए-गजल’ बेगम अख्तर के 103 वें जन्मदिन पर डूडल बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी. डूडल में गायिका हाथ में सितार पकड़े नजर आ रही हैं. कुछ लोग आस-पास बैठे सुन रहे हैं जिनके हाथों में गुलाब हैं. इस डूडल में बीच के दोनों G पर दो मोमबत्तियां जल रही हैं.

एक चैनल के अनुसार बेगम अख्तर का जन्म 7 अक्टूबर 1914 को उत्तर प्रदेश के फैजाबाद जिले में हुआ था. पेशे से वकील इश्तिआक अहमद अब्बासी से वर्ष 1945 में शादी करने के बाद अख्तरी बाई फैजाबादी से बेगम अख्तर बन गईं.

बतौर अभिनेत्री बेगम अख़्तर ने ‘एक दिन का बादशाह’ से अपने सिने कैरियर की शुरूआत की और कई फिल्मों में काम किया. हांलाकि वे इसमें नाम नहीं बना पाईं और सफलता मिली तो एक प्लेबैक सिंगर और गजल गायिका के तौर पर.  बेगम अख्तर ने ‘नसीब का चक्कर’, ‘द म्यूजिक रूम’, ‘रोटी’, ‘दाना-पानी’, ‘एहसान’ आदि कई फिल्मों के गीतों को अपनी आवाज दी.

दादरा, ठुमरी और गजल में महारत हासिल करने वाली बेगम अख्तर ‘संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार’ के अलावा ‘पद्म श्री’ से भी सम्मानित थीं. उन्हें मरणोपरांत ‘पद्म भूषण’ भी दिया गया था. 60 वर्ष की उम्र में 30 अक्तूबर 1974 को बेगम अख्तर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here