स्नातक फाइनल वर्ष की परीक्षाएं आज से, ऑनलाइन परीक्षा के लिए बनवाया मोबाइल एप

0
11
Graduation final year exams from today
Sponsored Advertisement

Chandigarh/Alive News: लंबे इंतजार के बाद स्नातक फाइनल वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षाएं नवरात्र के साथ शुरू हो रही हैं। इसके लिए एमडीयू ने तैयारी कर ली है। ऑनलाइन व ऑफलाइन तरीकों के लिए अलग से एसओपी भी जारी की है। ऑनलाइन एसओपी के तहत विद्यार्थियों के लिए मोबाइल ऐप बनवाया गया है। इसके लिए गूगल प्ले स्टोर से हायरमी-ऑनलाइन एसेसमेंट प्लेटफाॅर्म मोबाइल एप इंस्टॉल करना होगा।

रोल नंबर के साथ इस बार एग्जाम पिन नंबर भी जारी किया जाएगा। इसके जरिए एक विद्यार्थी एक परीक्षा ही देगा। पिन का एक-दूसरे से शेयर करना यूएमसी के दायरे में आएगा। ऑनलाइन परीक्षा में कौन बनेगा करोड़पति की तर्ज पर एक समय में एक ही प्रश्न वैकल्पिक आंसर के साथ नजर आएगा। स्नातक फाइनल की परीक्षाएं 17 से 28 अक्टूबर तक होंगी। बहु विकल्पीय परीक्षा का परिणाम एक सप्ताह में जारी करने की एमडीयू ने तैयारी कर ली है। इस परीक्षा में 82026 हजार विद्यार्थी परीक्षा देंगे। इनमें 32344 ऑनलाइन और 49682 स्टूडेंट्स ऑफलाइन तरीके से परीक्षा देंगे।

200 परीक्षा केंद्र बनाए, 50 में से 40 प्रश्नों के देने होंगे उत्तर
परीक्षा के लिए 200 परीक्षा केंद्र बनाए हैं। इस परीक्षा में बहु विकल्पीय प्रश्न विद्यार्थियों को दिए जाएंगे, ताकि वे जल्द परीक्षा दे सकें। परीक्षा के लिए समयावधि भी 30 से 45 मिनट की रखी गई है। विद्यार्थियों को 50 में से 40 प्रश्नों को उत्तर देना होगा। परीक्षाओं के लिए सुबह और दोपहर का समय तय किया गया है।

विद्यार्थियों का मॉक टेस्ट करवाया : डॉ. सिंधु
एमडीयू परीक्षा नियंत्रक डाॅ. बीएस सिंधु ने कहा कि कोविड-19 के नियमों के तहत एमडीयू की ओर स्नातक फाइनल की परीक्षा को लेकर पूरी तैयारी कर ली गई है। इसके तहत प्रदेश के 12 जिलों से 82 हजार विद्यार्थी परीक्षा देंगे। परीक्षा 17 अक्टूबर से शुरू कर 28 अक्टूबर तक संपन्न कर दी जाएगी। विद्यार्थियों को परीक्षा में किसी तरह की परेशानी ना हो, इसके लिए मॉक टेस्ट भी पहले ही करवा दिया गया है। प्रयास रहेगा कि परीक्षाएं खत्म होने के बाद एक सप्ताह के अंतराल में ही परीक्षा परिणाम जारी कर दिया जाए।

ऑनलाइन में यह लागू हाेगी गाइडलाइन
विद्यार्थियों को सुनिश्चित करना होगा कि उनके लैपटॉप, कंप्यूटर, एंड्राइड मोबाइल फोन पर सुचारु रूप से काम कर रहा कैमरा उपलब्ध हो।
विद्यार्थी कैमरे पर अपना सरकारी पहचान प्रमाण-पत्र दिखाना होगा।
सभी विद्यार्थी परीक्षा के दौरान कैमरे की निगरानी में रहेंगे।
कैमरा के जरिए निगरानी में यदि कोई विद्यार्थी किसी अनुचित कार्रवाई में लिप्त मिला तो उसकी परीक्षा रद्द कर दी जाएगी।

Print Friendly, PDF & Email