गुजरातः कोरोना मरीजों के लिए 6 दिन में तैयार किया 2200 बेड का अस्पताल

0
24

New Delhi/Alive News : कोरोना वायरस से जुड़े मामले में देश में तेजी से बढ़ रहे हैं. इससे लड़ने के लिए केंद्र के साथ राज्य सरकारें उचित कदम उठा रही हैं. इस कड़ी में गुजरात सरकार ने कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए सिर्फ 6 दिनों में 2200 बेड का अस्पताल तैयार किया है. मुख्यमंत्री के विजय रूपाणी का कहना है कि कोरोना पीड़ित मरीजों को यहां बेहतर मेडिकल सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं.

उन्होंने बताया कि COVID-19 से संबंधित चार विशेष अस्पतालों की शुरुआत की गई है, जो अहमदाबाद, राजकोट, सूरत और वडोदरा में हैं. इन अस्पतालों को बनाने का फैसला सरकार ने एक सप्ताह पहले लिया था. इन अस्पतालों की मॉनिटरिंग के लिए चार उच्च अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है.

स्वास्थ्य सचिव जयंति रवि ने कहा कि अहमदाबाद में सबसे अधिक 1200 बेड्स की व्यवस्था की गई है. ये अस्पताल पहले ही बनकर तैयार हो गया था, इससे जल्द शुरू करने की तैयारी थी. फिलहाल इसे कोरोना अस्पताल के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है. यहां की जिम्मेदारी आईएएस पंकज कुमार को सौंपी गई है.

सूरत में COVID-19 के लिए स्पेशल अस्पताल में ICU के 40 और जनरल के 140 बेड्स की व्यवस्था है. वहीं, वडोदरा में ICU में 50 और जनरल में 200 बेड्स का बंदोबस्त है, जबकि राजकोट में ICU के 40 और जनरल के 160 बेड्स की व्यवस्था है.

236 लोगों के खिलाफ केस दर्ज
इसके अलावा 20103 लोग सरकारी, प्राइवेट और होम क्वारनटीन में रखे गए हैं. क्वारनटीन नियमों का उल्लंघन करने वाले 236 लोगों के खिलाफ पुलिस ने केस भी दर्ज किए हैं. वहीं, गुजरात सरकार ने लोगों के लिए एक कंप्लीट इंटीग्रेटेड डिसीज सर्विलांस प्रोग्राम बनाया है. इसको लेकर सभी काम 2-3 दिनों में पूरे हो जाएंगे.

Print Friendly, PDF & Email