गुजरात चुनाव : BJP मेनिफेस्टो जारी न करने पर कांग्रेस और हार्दिक का हमला

0
22

New Delhi/ Alive News : गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में शनिवार को वोटिंग होनी है, लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने अभी तक कोई मेनिफेस्टो नहीं जारी किया है. एक चैनल के अनुसार पार्टी इस बार बिना मेनिफेस्टो के ही चुनाव लड़ने जा रही है. हालांकि पार्टी के नेता इस पर अलग-अलग बयान दे रहे हैं, तो कांग्रेस और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने बीजेपी पर मेनिफेस्टो न जारी करने को लेकर हमला शुरू कर दिया है. कांग्रेस ने अपना मेनिफेस्टो पहले ही जारी कर दिया है. कांग्रेस पार्टी के घोषणापत्र में पाटीदारों को आरक्षण देने संबंधी महत्वपूर्ण घोषणा है.

CD के चक्कर में घोषणापत्र भूली बीजेपी
पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने भी बीजेपी के घोषणापत्र जारी ना करने पर तंज कसा है. उन्होंने ट्वीट किया कि ”सीडी बनाने के चक्कर में भाजपा घोषणापत्र बनाना भूल गई है, कल वोटिंग है.” हार्दिक ने लिखा कि ”गुजरात में विकास के साथ चुनावी घोषणापत्र भी लापता है. साहब कोई कुछ भी नहीं कहेगा, आप एक बार चुनावी घोषणा पत्र में अपनी शैली में फेंक दीजिए.”

यह पहली बार है जब बीजेपी चुनाव में बिना मेनिफेस्टो के उतर रही है. भारतीय राजनीति के इतिहास में ऐसे मौके बहुत ही कम हैं जब कोई पार्टी बिना मेनिफेस्टो के चुनाव में उतरी हो. मेनिफेस्टो किसी भी पार्टी के लिए अहम चुनावी टूल होता है. इससे जनता के लिए पार्टी के दृष्टिकोण और विचारों का पता चलता है. साथ ही राज्य के विकास को लेकर पार्टी का रोडमैप दिखता है कि राज्य के अहम मुद्दों पर पार्टी क्या सोचती है.

2012 के मेनिफेस्टो से तुलना शुरू कर देगा विपक्ष
मेनिफेस्टो न जारी के सवाल पर गुजरात बीजेपी के स्थानीय नेताओं का कहना है कि बहुत सारे वादे करना ठीक नहीं होगा. अगर पार्टी मेनिफेस्टो जारी करती है तो विपक्ष 2012 के मेनिफेस्टो से इसकी तुलना करना शुरू कर देगा, जो पार्टी के हित में ठीक नहीं होगा.

‘बीजेपी के लिए मोदी ही हैं मेनिफेस्टो’
इससे साफ है कि बीजेपी इस बार बिना मेनिफेस्टो के सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे के सहारे ही गुजरात चुनाव में उतर रही है. बीजेपी की ओर से गुजरात की जनता के लिए नरेंद्र मोदी ही मेनिफेस्टो हैं और राज्य के विकास का चेहरा भी.

मेनिफेस्टो को लेकर राहुल गांधी ने साधा निशाना
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार की शाम ट्वीट कर कहा, ‘बीजेपी ने गुजरात की जनता के प्रति अविश्वसनीय असम्मान का दिखाया है. चुनाव प्रचार पूरा हो गया है और जनता के लिए मेनिफेस्टो का कोई जिक्र नहीं है. गुजरात के भविष्य के लिए कोई विजन नहीं, कोई विचार नहीं.’

2012 में एक हफ्ते पहले ही जारी किया मेनिफेस्टो
बता दें साल 2012 में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहले चरण के चुनाव से एक हफ्ते पहले ही बीजेपी का मेनिफेस्टो जारी कर दिया था. इस साल, पार्टी ने हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 10 दिन पहले ही मेनिफेस्टो जारी कर दिया.

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here