गुजरात के बाद गोवा में भी तूफान ‘वायु’ की दहशत, बीचों को खाली कराया

0
77

New Delhi/Rajasthan/Alive News: केरल में दक्षिण पश्चिम मानसून सक्रिय होने के बीच राज्य में कई स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हुई। अरब सागर के ऊपर गहराते निम्‍न दबाव वाले क्षेत्र के बीच यहां तेजी से चक्रवात की स्थिति बनती जा रही है। केरल में भारी बारिश से तटीय क्षेत्रों में पेड़ उखड़ गए और घर क्षतिग्रस्त हुए। वहीं अरब सागर में हवा के कम दबाव की स्थिति गहराने के कारण उत्पन्न चक्रवाती तूफान ‘वायु’ महाराष्ट्र से उत्तर में गुजरात की ओर बढ़ रहा है।

गुजरात के बाद गोवा में भी चक्रवाती तूफान ‘वायु’ से दहशत फैल गई है। इस तूफान से निपटने के लिए गोवा प्रशासन हाई अलर्ट पर है। गोवा में इस तूफान को लेकर खास तरह के इंतजाम किए जा रहे हैं। गोवा के बीचों को खाली कराया जा रहा है। मुंबई मौसम विभाग के डिप्टी डायरेक्टर जनरल केएस होसलिकर ने कहा कि दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में वायु की गति 280 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने की संभावना है। वहीं उत्तरी महाराष्ट्र में हवा की रफ्तार 50 किमी प्रति घंटे से बढ़कर 70 किमी प्रति घंटे तक चलने की संभावना है। क्षेत्रीय मौसम अनुमान केंद्र के डायरेक्टर इनचार्ज बिश्वंभर सिंह ने कहा कि मुंबई में इसका खास असर नहीं दिख रहा है।

शहर में हल्की बारिश हो रही है और हवाओं की गति में रफ्तार होने की आशंका है। राहुल गांधी ने वायु तूफान को लेकर गुजरात के लोगों को अलर्ट रहने के लिए कहा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, “चक्रवात ‘वायु’ गुजरात तट के करीब पहुँचने वाला है। मै गुजरात के सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से अपील करता हूं कि वे इसके रास्ते में आने वाले सभी क्षेत्रों में मदद के लिए तैयार रहे। मै चक्रवात से प्रभावित होने वाले क्षेत्रों के सभी लोगों की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं। एनडीआरएफ की टीम इससे प्रभावित होने वाले लोगों की मदद के लिए गुजरात पहुंच चुकी हैं। इसके साथ ही दो दिन के लिए स्कूलों को बंद कर दिया गया है और अफसरों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। गुजरात में चक्रवाती तूफान ‘वायु’ से दहशत फैल गई है। इस तूफान से निपटने के लिए गुजरात प्रशासन हाई अलर्ट पर है। ‘वायु’ के कल वेरावल के पास तट पर पहुंचने की संभावना है।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मंगलवार को कहा कि तटीय इलाके में रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जाएगा। मौसम विभाग के जारी बुलेटिन के अनुसार, अगले 24 घंटों में चक्रवाती तूफान के और अधिक गंभीर रूप धारण करने की संभावना व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तर की ओर बढ़ता ‘वायु’ 13 जून को सुबह गुजरात के तटीय इलाकों में पोरबंदर से महुवा, वेरावल और दीव क्षेत्र को प्रभावित करेगा। इसकी गति 115 से 130 किमी प्रति घंटा तक हो सकती है। मौसम विभाग ने इसके मद्देनजर सौराष्ट्र और कच्छ के तटीय इलाकों में 13 और 14 जून को भारी बारिश होने और 110 किमी प्रति घंटे की गति से हवाएं चलने की चेतावनी जारी की है।

Print Friendly, PDF & Email