गुरुग्राम : पद्मावत विरोध प्रदर्शन और स्कूल बस हमले के मामले में 42 लोग गिरफ्तार

0
6

Gurugram/Alive News : संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत की रिलीज के खिलाफ हरियाणा के गुरुग्राम में हिंसा करने और स्कूल बस पर हमला करने के आरोप मे पुलिस ने तकरीबन 42 लोगों को हिरासत में लिया है. एक चैनल के अनुसार पुलिस के एक जनसंपर्क अधिकारी ने का कहना है कि विभाग ने हिंसक घटनाओं में कथित संलिप्तता को लेकर 42 लोगों को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा 14 लोगों को एहतियात के तौर पर गिरफ्तार किया गया है. इस गिरफ्तारी में करणी सेना के नेता ठाकुर कुशलपाल सिंह हो हिरासत में लिया गया है.

करणी सेना के नेता ठाकुर कुशलपाल सिंह भी गिरफ्तार
पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी रवीन्दर कुमार ने बताया कि हिंसा की जांच कर रहे गुड़गांव पुलिस के विशेष जांच दल ने सोहना में सिलानी मोड़ से चार लोगों को गिरफ्तार किया. उन्होंने कहा कि वे मेवात के गांव उलेटा रोज का मेव के रहने वाले हैं. कुमार ने बताया, ‘‘फिल्म के विरोध में प्रदर्शन के सिलसिले में गुड़गांव पुलिस ने अभी तक 42 लोगों को गिरफ्तार किया हैय.’’ उनहोंने यह भी विशेष जांच दल ने करणी सेना के नेता ठाकुर कुशलपाल को भी हिंसा में उनकी भूमिका पर पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है.

अफवाहों पर ना दें ध्यान
गुरुग्राम में हिंसा भड़कने के बाद सोशल मीडिया पर खबरें आई थी कि पुलिस ने इस हिंसा के लिए कुछ मुस्लिम युवाओं को हिरासत में लिया है. इस खबर को खारिज करते हुए कुमार ने कहा कि किसी भी शख्स को सोशल मीडिया या किसी भी अन्य अफवाह पर ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है. कुमार ने कहा कि गिरफ्तार किये गए लोगों को एक अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

स्कूल बस पर किया था प्रदर्शनकारियों ने हमला
बुधवार को एक स्कूल के 20-25 छात्र बाल-बाल बच गए जब ‘पद्मावत’ फिल्म की रिलीज के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए भीड़ ने उनकी बस पर हमला कर दिया था. जीडी गोयनका वर्ल्ड स्कूल के छात्र अपने घर लौट रहे थे तभी करीब 60-70 प्रदर्शनकारियों ने लाठियों से बस पर हमला करते हुए ड्राइवर से गाड़ी रोकने को कहा था. ड्राइवर ने जब ध्यान नहीं दिया तो भीड़ ने बस पर पथराव कर दिया था. बस में सवार बच्चे और टीचरों ने सीट के नीचे दुबक कर अपनी जान बचाई थी. इसके अलावा सोहना मार्ग पर उपद्रवियों ने हरियाणा रोडवेज की एक बस में आग लगा दी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here