ज्ञानदीप स्कूल में ‘बसंत पंचमी’ पर हवन यज्ञ

0
96

Faridabad/Alive News : एसजीएम नगर स्थित ज्ञानदीप पब्लिक स्कूल में बसंत पंचमी के मौके पर हवन यज्ञ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यार्थियों को हमारी संस्कृति से रूबरू कराया गया, बसंत पंचमी के मौके पर हवन यज्ञ की अध्यक्षता स्कूल के चेयरमैन शिवचरण दास ने की। बसंत पंचमी के कार्यक्रम का शुभारंभ स्कूल के प्रांगण में किया गया।

छात्रों ने मंच पर विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर विद्यार्थियों ने सरस्वती वंदना की। स्कूल के प्रिंसिपल मानव शर्मा ने बसंत पंचमी पर विद्यार्थियों को बताया कि बसंत पंचमी हिन्दुओं का त्योहार है, जिसके आने पर बसंत ऋतु का आगाज होता है। माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी को बसंत पंचमी का पर्व मनाया जाता है। बसंत पंचमी अधिकतर जनवरी और फरवरी में आती है। इस बार बसंत पंचमी 10 फरवरी रविवार के दिन थी। बसंत पंचमी के दिन वीणा वादिनी एवं विद्या की देवी सरस्वती जी की पूजा की जाती है।

स्कूल के डायरेक्टर सोनू शर्मा ने विद्यार्थियों को बसंत पंचमी के महत्व के बारे में बताया तथा अध्यापकों और विद्यार्थियों को बसंत पंचमी की शुभकामनाएं दी। विद्यार्थियों को लड्डू का प्रसाद देकर कार्यक्रम का समापन किया।

स्कूल के चेयरमैन शिवचरण दास ने कहा कि इस दिन विद्यार्थियों को जरूर पढ़ना चाहिए। उधर, किसानों के लिए भी इस पर्व का विशेष महत्व है, बसंत पंचमी पर सरसों के खेत लहलहा उठते हैं। इस दिन से बसंत ऋतु का प्रारंभ होता है, मौसम सुहाना हो जाता है और पेड़-पौधों में नए फल-फूल पल्लवित होने लगते हैं। उत्तर भारत में बसंत पंचमी का त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है, इस दिन कई जगहों पर पतंगबाजी भी होती है।

Print Friendly, PDF & Email