Faridabad/ Alive News: Suddenly heavy rain since the early morning of Friday has exposed the reality of MCF. One side while the government as well as administration is indulged in cleanliness campaign, which will continue till October 2, but other side, new difficulty destroyed their dreams.

Heavy rain not only barred the transports but most of the areas have also submerged in it. Sector and colonies like, Janta Colony, Krishna Colony, Rahul Colony, Sector- 50, 46, 16, 17 and NIT-5 in these area’s condition was very bad and people were not able to think what they should do.

However, the Mayor did not receive phone when the correspondent tried to contact her in this regard.

 

शहर जलमग्न, खुली नगर निगम के दावों की पोल

फरीदाबाद : शुक्रवार सुबह से हो रही बारिश ने नगर निगम के दावो की पोल खोल कर रख दी है। शहर में चारो ओर बारिश के पानी ने बाढ़ का रूप ले लिया था। उधर, सरकार में अधिकारी, पार्षद, विधायक और मंत्री की माने तो शहर को स्वच्छता अभियान के तहत जोडक़र 2 अक्टूबर तक प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने के दावे कर रहे है।
सुबह से हो रही बारिश ने इन दावों को खोखला साबित कर दिया है। शहर की जनता कालोनी, डबुआ कालोनी, एनआईटी-1,2 और 3 की मुख्य सडक़ो से लेकर गलियों तक पानी से लबालब थी। यहां तक कि डबुआ कालोनी, सैक्टर-23 के संजय कालोनी के मकानों तक में पानी भर चुका था, क्योंकि नगर निगम द्वारा मुख्य नालों और डिस्पोजलों को सुचारू रूप से चालू न करने के कारण शहर जलमग्र हो रहा। फरीदाबाद के सैक्टर-15ए और सैक्टर-15 को शहर का पोश क्षेत्र माना जाता है, आज उसकी हालत किसी तालाब से कम नहीं दिखाई दे रही थी, सडक़ो पर तीन-तीन फुट पानी से गाडिय़ा रेंगती हुई दिखाई दी और कुछ गाडिय़ों ने बारिश के पानी में दम तोड़ दिया।
वहीं सैक्टर-16, 17, 18, 19 और ओल्ड फरीदाबाद की भूड कालोनी-बसेलवा कालोनी में सीवर ने ऑवर फ्लो होकर घरों में बैक मारना शुरू कर दिया था, जिससे लोगों का हाल बेहाल हो गया। वहीं बाल्मीकि पार्क से चुज्गी को जाने वाली सडक़ पर पानी भरा रहा। नेशनल हाईवे-2 पर भी बारिश के पानी ने गाडिय़ों की गति को रोक दिया जिससे दिनभर मथुरा रोड़ पर जाम की स्थिति रही। पानी इतना रहा कि दुपहिया वाहन पानी में भी अपना दम तोड़ते दिखाई दिए।
– क्या कहतीं है मेयर
शहर की हालत को देखकर जब मेयर से सम्पर्क करना चाहा तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। इससे प्रतित हो रहा है भाजपा सरकार के लोग जनता से किए गए वायदो को पूरा करने में असमर्थ साबित हो रहें है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here