हिन्दुस्तान बंद, 21 दिन के लिए लागू हुआ कोरोना कर्फ्यू

0
13

New Delhi/Alive News : कोरोना वायरस से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा कर दी है. पीएम मोदी ने 21 दिनों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की है, जो लागू हो चुका है. पीएम ने कहा कि ये जनता कर्फ्यू से एक कदम आगे का फैसला है.

जनता कर्फ्यू को आपने सफल बनाया
प्रधानमंत्री ने कहा कि जनता कर्फ्यू को हर भारतवासी ने सफल बनाया. एक दिन के जनता कर्फ्यू से भारत ने दिखा दिया कि जब देश पर संकट आता है तो हम किस तरह से सभी भारतीय मिलकर एकजुट होकर उसका मुकाबला करते हैं.

सोशल डिस्टेंसिंग एकमात्र विकल्प
कोरोना वायरस के इलाज का एक मात्र रास्ता पीएम मोदी ने सोशल डिस्टेंसिंग को बताया. पीएम ने कहा कि इसका मतलब है कि एक दूसरे से दूर रहना, अपने घरों में बंद रहना. कोरोना से बचने का इसके अलावा कोई रास्ता नहीं है. इसके संक्रमण की साइकिल को तोड़ना ही होगा.

प्रधानमंत्री के लिए भी है सोशल डिस्टेंसिंग
कुछ लोग इस गलतफहमी में हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग केवल बीमार लोगों के लिए है, लेकिन ये सोचना सही नहीं है. सोशल डिस्टेंसिंग सभी के लिए है, प्रधानमंत्री के लिए भी है. कुछ लोगों की गलत सोच आपके परिवार को, आपको, आपके बच्चों को आपके दोस्तों बहुत मुश्किल में डाल देगी. अगर ऐसी लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी और इसकी कीमत कितनी बड़ी होगी इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है.

पूरे भारत में लॉकडाउन
प्रधानमंत्री ने कहा कि संपूर्ण देश में पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन होने जा रहा है. पीएम ने कहा कि ये लॉकडाउन आपको बचाने के लिए, आपके परिवार को बचाने के लिए लागू किया जा रहा है. इस दौरान घरों से निकलने पर पूरी पाबंदी लगाई जा रही है. पीएम ने कहा कि 21 दिन नहीं संभले तो कई परिवार तबाह हो जाएंगे.

हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले में लॉकडाउन
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश के हर राज्य को, हर केंद्र शासित प्रदेश को, हर जिले, हर गांव, हर कस्बे, हर गली-मोहल्ले को अब लॉकडाउन किया जा रहा है. नरेंद्र मोदी ने कहा कि निश्चित तौर पर इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी. लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है.

जहां हैं, वहीं रहें-पीएम
देशवासियों से अपील करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनकी देशवासियों से प्रार्थना है कि आप इस समय देश में जहां भी हैं, वहीं रहें. अभी के हालात को देखते हुए, देश में ये लॉकडाउन 21 दिन का होगा. उन्होंने कहा कि आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण सायकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत अहम है.

Print Friendly, PDF & Email