Faridabad/Alive News : मानव रचना शैक्षणिक संस्थान में नॉन-इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिला लेने वालों के लिए ओरिएंटेशन प्रोग्राम रखा गया। इस दौरान मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज और मानव रचना यूनिवर्सिटी के छात्रों ने हिस्सा लिया। ओरिएंटेशन प्रोग्राम की शुरुआत हवन के साथ हुई।

कार्यक्रम में मानव रचना शैक्षणिक संस्थान की मुख्य संरक्षक सत्या भल्ला ने छात्रों को संबोधित किया। उन्होंने सभी छात्रों को कहा कि वह लग्न, निष्ठा और कर्तव्य से काम करें। मानव रचना के छात्रों को कभी कोई कमी नहीं आने देंगे। उन्होंने उम्मीद जताई छात्र जिस लक्ष्य के साथ मानव रचना में आए हैं वह पूरा हो। उन्होंने सभी छात्रों से बताया कि, चोट का घाव भर सकता है लेकिन कठोर शब्दों से दिया गया घाव कभी नहीं भर सकता। इसलिए छात्र अपनी पढ़ाई के दौरान इस बात का खास ध्यान रखें।

मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज के वीसी डॉ. एनसी वाधवा ने सभी का मानव रचना कैंपस में स्वागत किया। इस मौके पर उन्होंने फाउंडर विजनरी डॉ. ओपी भल्ला को याद किया। उन्होंने बताया कि, यह ओपी भल्ला की ही सोच थी जिसे आज मिलकर मानव रचना का पूरा परिवार आगे बढ़ा रहा है। हमें उम्मीद है कि आने वाले दिनों में आप सभी छात्र मानव रचना का नाम रोशन करेंगे। उन्होंने इस दौरान मानव रचना में छात्रों के लिए मौजूद सुविधाओं के बारे में जानकारी दी।

मानव रचना यूनिवर्सिटी की प्रो. वीसी डॉ. मीनाक्षी खुराना ने भी छात्रों का जोरदार स्वागत किया। उन्होंने इस दौरान सभी छात्रों का परिचय फैकल्टी मेंबर्स और एचओडी से करवाया। उन्होंने सभी छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की।

ओरएंटेशन कार्यक्रम के दौरान मानव रचना के ट्रस्टी डॉ. एमएम कथूरिया, एमआरआईआईआरएस के प्रो.वीसी, डॉ. एमके सोनी, फैकल्टी मेंबर्स, एचओडी समेत सभी सेंट्रल टीम के अधिकारी मौजूद रहे। अंत में सभी छात्रों ने अच्छा इंसान बनने की भी शपथ ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here