Faridabad/Alive News : श्रावण शिवरात्रि के अवसर पर सूरजकुंड रोड़ स्थित लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम (श्री सिद्धदाता आश्रम) में बड़ी संख्या में भक्त पहुंचे जिन्होंने अपने ईष्ट और गुरुदेव का पूजन कर जयघोष किया। यहां अधिपति जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य जी महाराज ने सविधि महादेव शिव का पूजन किया।
हरिद्वार और गंगोत्री से कांवड़ लाने वाले कांवडिए बड़ी सख्ंया में लक्ष्मीनारायण दिव्यधाम पहुंचे।

यहां पूजन करने के बाद अधिपति श्रीमद जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज ने कहा कि महादेव के साथ एक बड़ा गुण जुड़ा है। वह देवों के देव महादेव हैं, सब कुछ कर सकते हैं, बलशाली हैं लेकिन भोले भी हैं। महादेव के यह गुण हमें बताते हैं कि हमें कितनी भी खूबियां होने का अभिमान नहीं करना चाहिए।

यह मानवता का विशिष्ट गुण है। महादेव शिव का पूजन करने का एक अर्थ यह भी है कि हमें उनके गुणों को अपने जीवन में उतारना है। कांवडियों ने महादेव का जलाभिषेक कर मन्नत मांगी। उन्होंने गुरु महाराज का भी पूजन कर आशीर्वाद मांगा। इस अवसर पर हजारों की सं या में भोले के भक्तों ने पूजन किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here