पहली से आठवीं की परीक्षाओं के लिए भी नकलरहित टीम गठित

0
25

Sonipat/Alive News : हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की ओर से ली जानी वाली 10वीं व 12वीं की वार्षिक परीक्षाओं के बीच बृहस्पतिवार से छठी से आठवीं की परीक्षाएं भी शुरू हो गई हैं। जिला शिक्षा विभाग 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं के बीच पहली से आठवीं तक की परीक्षाओं को हल्के में नहीं ले रहा और नकल रहित परीक्षा कराने के लिए किसी फ्लाइंग टीम की तर्ज पर ही जिला स्तर पर टीम गठित की गई है। यह टीम विभिन्न स्कूलों का दौरा कर निरीक्षण करेंगी और इसकी रिपोर्ट जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी को देंगी।

बृहस्पतिवार को छठी का हिंदी विषय का पेपर हुआ। वहीं सातवीं कक्षा का अंग्रेजी व आठवीं कक्षा का गणित विषय का पेपर लिया गया। इस बार पहली से आठवीं कक्षा के लिए प्रश्न-पत्र हरियाणा विद्यालय शिक्षा द्वारा ही तैयार किया जा रहा है। पहली से पांचवीं तक की परीक्षा 19 मार्च से शुरू होंगी। इन परीक्षाओं के लिए शिक्षकों को बस्ते 17 या 18 को बांटे जाएंगे।राजकीय उच्च विद्यालय राई में औचक निरीक्षण करते बीईईओ दयानंद आंतिल

अध्यापक संघ ने किया विरोध, निर्देश कायम
राजकीय स्कूलों के अधिकतर शिक्षकों की हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की परीक्षा में ड्यूटी लगाई गई है। 10वीं की परीक्षाओं के बीच कई-कई दिनों का अंतराल भी आ जाता है। इस अंतराल में शिक्षकों को घर पर छुट्टी न बिताकर अपने स्कूल में जिम्मेदारी संभालने के निर्देश दिए गए हैं। यह देखने में आया था कि बोर्ड परीक्षाओं में गुरुजनों की ड्यूटी होने से स्कूल में पहली से नौवीं व 11वीं के विद्यार्थियों की होने वाली परीक्षाओं में स्टाफ की कमी पड़ रही थी। इसी कमी में कुछ संतुलन लाने के लिए शिक्षकों को 10वीं व 12वीं की परीक्षा न होने की दशा में अपने-अपने स्कूल में ड्यूटी पर हाजिर होने की बात कही गई है। हालांकि इस फैसले का कई अध्यापक संघ ने विरोध किया है मगर स्कूल में ड्यूटी पर हाजिर होने का निर्देश अभी भी कायम है।

पहली से आठवीं कक्षा के बीच होने वाली परीक्षाओं में किसी भी तरह की लापरवाही से बचने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी के साथ ही ब्लॉक रिसॉर्स कॉर्डिनेटर (बीआरसी) व असिस्टेंट ब्लॉक रिसॉर्स कॉर्डिनेटर (एबीआरसी) की ड्यूटी लगाई गई है। यह सभी राजकीय स्कूल का दौरा कर स्थिति जांचेंगे। शिक्षा अधिकारियों के साथ ही एबीआरसी व बीआरपी की ड्यूटीपहली से आठवीं कक्षा की परीक्षाओं के लिए जिला स्तर पर टीम गठित की जा चुकी हैं। यह टीम उड़नदस्ते की तरह ही किसी भी स्कूल में औचक निरीक्षण कर जांच करेंगी। किसी भी स्कूल में लापरवाही की घटना पर तुरंत एक्शन लिया जाएगा। बृहस्पतिवार को हुई परीक्षा में भी कई जगह का दौरा किया गया जहां स्थिति सामान्य पाई गई-दयानंद आंतिल, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी I

Print Friendly, PDF & Email

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here