Faridabad/Alive News : सावन के महीने में शिव भक्तों द्वारा कावड़ लाने की परम्परा व संस्कृति सालों से चली आ रही हैं। इसी उद्देश्य से ‘भारतीय स्वाभिमान संस्था’ के संस्थापक सदस्य सर्वेश मिश्रा (लाला जनरल स्टोर), मार्किट एसोसिएसन व बाला जी मंदिर के पंडित नरेंद्र पाठक के सहयोग से कावडिय़ों के लिए एक विशाल शिविर व भंडारे का आयोजन किया गया।

शिविर में कावडिय़ों का फूल मालाओं व ढोल-नगाड़ो के साथ जोरदार स्वागत किया गया। कावडिय़ों के सेवा के लिए फल इत्यादि का भी इंतेजाम किया गया था। इस मौके पर संस्था के कौषाध्यक्ष सोनू सांई ने कहा कि हर वर्ष कावड़ी शिव बाबा की मूर्ति को लेकर कावंड लेने जाते है और हर वर्ष महाशिवरात्रि के समय फरीदाबाद पहुंचकर जल चढ़ाते है, उन्होंने कहा कि इस कार्य से उन्हें आत्मसंतुष्टि मिलती है।

उन्होंने कहा कि भारत ऋषि मुनियो की पवित्र धरा है, और इस धरा पर कई ऋषि मुनियो ने वास किया है और हम सभी केा गर्व महसूस करना चाहिए, कि हम भारतवर्ष जैसे देश के नागरिक है। जहां परम्परा, संस्कृति का संगम समय-समय पर देखने को मिलता है।

उन्होंने कहा कि कावंड लाना बहुत ही पुण्य का कार्य है इस कार्य को करने से जहां आपसी भाईचारा बना रहता है वही धर्म की प्रवृति भी होती है जो कि हमारे युवाओं व आने वाली पीढियो के लिए लाभदायक सिद्ध होगी। इस मौके पर भारतीय स्वाभिमान की पूरी टीम उपस्थित रही । इस पुनीत कार्य मे चौ. मामचंद प्रधान, सर्वेश मिश्रा, प. जय शर्मा, सोनू साई, रोहताश ठाकुर , अजीत सिंह व अन्य कई समाज सेवियों का विशेष योगदान रहा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here