जिले में बनेंगे 10 हजार बेड के आइसोलेशन वॉर्ड

0
35

Faridabad/Alive News: जिले में लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन ने मरीजों को भर्ती करने के लिए अतिरिक्त तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसके लिए जिला प्रशासन के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग आइसोलेशन केंद्र बनाने की योजना पर कार्य कर रहा है। इन केंद्रों में बेड संख्या 10 हजार तक हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि कोरोना के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। एक महीने से कोरोना के प्रतिदिन नए मामले आ रहे हैं। जिले में अभी तक 360 कोरोना के मरीज हो चुके हैं और इनकी संख्या में भारी इजाफा होने की आशंका है। केंद्र सरकार ने भी देश में अगस्त तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 2.74 करोड़ तक पहुंचने की आशंका जताई है। वहीं जिले में महज 13 दिनों में संक्रमितों की संख्या दोगुनी से अधिक हो गई है। 19 मई तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 159 थी और अब यह संख्या 360 तक पहुंच गई है। इन्हें देखते हुए प्रदेश सरकार ने जिला प्रशासन को अतिरिक्त तैयारी करने के निर्देश दिए हैं। इसके तहत जिले में करीब 10 हजार बेड के आइसोलेशन केंद्र बनाने का फैसला किया गया है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने फरीदाबाद पहुंच कर आइसोलेशन केंद्रों पर चर्चा की थी। क्वारंटाइन केंद्र भी बन सकते हैं आइसोलेशन केंद्र

जिला प्रशासन ने शिक्षण संस्थानों, धर्मशालाओं, हरियाणा टूरिज्म के होटल सहित कई संस्थानों में 4150 क्वारंटाइन केंद्र बने हैं। इनको आइसोलेशन केंद्रों में भी बदला जा सकता है। फिलहाल इन केंद्रों में कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने वाले व विदेश से लौटने वाले लोगों को रखा जा रहा है। इसके अलावा शहर के विभिन्न स्टेडियमों को भी आइसोलेशन केंद्रों का रूप दिया जा सकता है। मरीज को भर्ती करने के लिए उपायुक्त यशपाल यादव के पास बेड सैंपल भी मंगवाए गए हैं।

जिले में करीब 10 हजार बेड का आइसोलेशन केंद्र बनाने की योजना है। इसे लेकर कार्रवाई चल रही है। कोरोना संक्रमितों की संख्या अधिक होने पर उन्हें इन आइसोलेशन केंद्रों में भर्ती किया जा सकता है।

– डॉ.रमेश, उपमुख्य चिकित्सा अधिकारी

Print Friendly, PDF & Email