जाट समाज ने दी पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि

0
10

Faridabad/Alive News : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी सिर्फ भाजपा के ही नहीं, देश के उ दा नेताओं में शुमार थे। अटल जी की कविताएं लोगों को प्रेरणादायक और विचार देश में भाईचारा को बढ़ावा देने के लिए होते थे। यह बात जाट समाज के अध्यक्ष जे.पी.एस. सांगवान ने सैक्टर-16 स्थित किसान भवन में जाट समाज की ओर से आयोजित पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि आज पूरा देश आंसूओं में बह रहा है क्योंकि देश का एक महान नेता और अच्छा इंसान सदा सदा के लिए ईश्वर के चरणों में शरणागत हो गया है। अटल बिजारी वाजपेयी त्याग, न्याय, मृदुभाषी के प्रतीक थे। उन्होंने हमेशा अपनी मृदुभाषा से दूसरों का दिल जीता। देश की खातिर उन्होंने घर का त्याग कर हमेशा अविवाहित रहने का फैंसला किया। ऐसे दृढ़ निश्चियी संत नेता को हम सत-सत नमन करते हैं।

जाट समाज के महासचिव एच.एस. मलिक ने अपने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि अटल जी एक पार्टी के नेता नहीं थे। बल्कि देश की समस्त पार्टियां उन्हें एक राष्ट्रीय नेता के रूप में मानती थी। वे उन्हें अपना पथ प्रदर्शक और शुभचिंतक भी मानती थी, क्योंकि वे हमेशा स्वार्थों से परे राष्ट्रीय प्रेम को अधिक प्रमुखता देते थे।

यही बात है कि आज देश पूर्व प्रधानमंत्री को अश्रुपूरित श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है। हमें उनके बताए मार्ग पर चलने की आवश्यकता है। इस अवसर पर टी.एस. दलाल, रंजीत ङ्क्षसह दहिया, सबरजीत ङ्क्षसह फौजदार, एचएस ढिल्लो, कमल चौधरी, राजबीर सिंह, विकास चौधरी, एच.एस. राणा तथा बिजेंद्र फौजदार सहित अनेक जाट समाज के पदाधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here