कर्ज से परेशान प्रॉपर्टी कारोबारी ने खुद को गोली मारी

0
162

Faridabad/Alive News : फरीदाबाद के एक प्रॉपर्टी कारोबारी ने कर्ज से परेशान होकर लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने पर थाना सूरजकुंड पुलिस ने मौके पर पहुंच कर हालातों का जायजा लिया और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बादशाह खान अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया हैं।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रॉपर्टी कारोबारी और चीट फंड का काम करने वाले गांव अनंगपुर निवासी रामबीर ने करोड़ों के कर्ज से परेशान होकर अपने पिता ओमपाल की लाइसेंसी रिवॉल्वर से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। रामबीर पर कर्ज काफी ज्यादा था। पुलिस ने बताया कि सूरजकुंड के गांव अनंगपुर निवासी ओमपाल भड़ाना का तक़रीबन 40 वर्षीय बेटा रामबीर पिछले करीब 15 सालों से प्रॉपर्टी के कारोबार में सक्रीय था और इसके बाद करीब सात सालों से कमेटी चला कर उस पैसों को प्रॉपर्टी में इन्वेस्ट करता था। नोटबंदी के ऐलान के बाद से रामबीर का प्रॉपर्टी में काफी नुक्शान हो गया।

इसकी वजह से काफी परेशान रहता था और इस दौरान उसके चारों पार्टनर भी उसका साथ छोड़ गए। इस बात का खुलासा दो-ढाई महीने पहले रामबीर द्वारा वायरल की गई वीडियो रिकॉर्ड से हुआ। वायरल वीडियो में मरने से पहले रामबीर भड़ाना ने कहा था कि वह बईमान नहीं हैं पर उसके चारों पार्टनरों ने उसके ग्रीन फील्ड कालोनी के ऑफिस व घर पर पूरी तरह से कब्ज़ा कर लिया था। इसके वजह से वह काफी परेशान हैं और वह अपने परिवार से दूर होकर लेनदारों से छिपता फिर रहा हैं और उसने लोगों से सहायता भी मांगी थी और उस वीडियो में भी मरने की इक्छा जताई हुई है।

रामबीर के जानकारों के अनुसार उसके पिता ओमपाल भड़ाना ने उस दौरान समझा बुझा कर अपने घर गांव अनंगपुर ले गए और रामबीर भड़ाना को भरोसा भी दिया था वह लोगों का जो भी कर्ज हैं धीरे-धीरे लौटा दिया जायेगा, लेकिन आज उसने अपने गांव अनंगपुर घर में खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली।
जानकारी यह भी मिल रही है कि मरने वाले रामबीर भड़ाना ने ग्रीन फिल्ड कालोनी में एक कमर्शियल बिल्डिंग बनाई थी। इस प्रकरण में सूरजकुंड थाने के एसएचओ विशाल कुमार से दो-तीन बार बातचीत करने के कोशिश की गई पर उन्होनें अपना फोन नहीं उठाया।

इसके बाद डीसीपी एनआईटी विक्रम कपूर से बात की गई तो उनका कहना हैं कि एसएचओ विशाल कुमार ने उन्हें भी इस घटना के बारे में नहीं बताया। इसके बाद उन्होनें स्वंय एसएचओ विशाल से बात भी की और इस घटना के बारे में जानकारी हासिल की। एनआईटी डीसीपी विक्रम कपूर का यह भी कहना हैं कि मरने वाले रामबीर भड़ाना के ऊपर काफी कर्ज था और उसने क़र्ज़ से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। इस मामले में उसके परिवार के लोग अभी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं फिर भी प्रथम चरण में जो भी कार्रवाई पुलिस की बनती हैं पुलिस कार्यवाही कर रही है।

Print Friendly, PDF & Email