Faridabad/ Alive News: पाली-सोहना रोड पर पखाल में स्थित शिक्षा भारती पब्लिक स्कूल में खसरा और रूबेला टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई। इस अभियान को सफल बनाने के लिए स्कूल प्रबन्धक एवं डॉक्टर परिक्षित यादव की टीम पिछले कई दिनों से जन-जागरण अभियान चलाया।

इस मौके पर प्रमुख चिकित्साधिकारी डॉ. परिक्षित यादव ने खसरा और रूबेला को एक जानलेवा बीमारिया बताते हुए टीकाकरण को अनिवार्य बताया। डॉ. परिक्षित यादव ने कि खसरा एक जानलेवा रोग है जो वायरस से फैलता है। खसरा रोग के कारण विकलांगता या असमय मृत्यु हो सकती है। रूबेला की जानकारी देते हुए डॉ. यादव ने कहा कि बच्चों में यह रोग आमतौर पर हल्का होता है, जिसमे खारिश, कम डिग्री का बुखार, मिचली और हल्के नेत्र-शोध के लक्षण दिखाई देते हैं। इसके कारण आंखों में मोतियाबिंद, कानो में सुनाई देने की शक्ति खत्म होना तथा ह्रदय प्रभावित हो सकता है। इन रोगों से बचाव के लिए टीकाकरण ही एक मात्र उपाय है।
डॉ. परिक्षित यादव ने बताया कि यह टीका 9 माह से लेकर15 साल तक के बच्चों को लगाया जाना है। यह टीका पूर्णतः सुरक्षित और प्रभावी है तथा इसका उपयोग पिछले 40 सालों से विभिन देशो में किया जा रहा है।
स्कूल के वाईस प्रिन्सिपसल विनित कुमार गेरा ने स्कूल में टीकाकरण करने आये डॉक्टरों की टीम का स्वागत किया और इस अभियान को स्कूल प्रबंधन के पूर्ण सहयोग का आश्वासन देते हुए अभियान की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here