New Delhi/Alive News : रविवार को यूपी के फतेहपुर में पीएम नरेंद्र मोदी के बयान पर खासा राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया है. विरोधी दलों के कई बड़े नेताओं ने इस बयान पर विरोध प्रकट किया है. इस कड़ी में लालू प्रसाद ने एक के बाद कई ट्वीट कर पीएम मोदी पर निशाना साधा है. लालू ने एक ट्वीट में कहा,”देश ने ऐसा पीएम नहीं देखा जो सीने पर अपनी पार्टी का चिह्न चिपका धर्म और जाति की बात कर देशवासियों की भावनाएं भड़काने का काम करता है.

” सिर्फ इतना हीं नहीं उन्‍होंने एक दूसरे ट्वीट में कहा, ”आप पीएम हैं साहब. देश में श्‍मशान बनाने व किसानों के बिल माफ करने से किसी ने रोका है क्‍या? 56 इंची व्‍यक्ति डरपोक रास्‍ते से देश को गुमराह नहीं करता.

” नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्‍दुल्‍ला ने ट्वीट करते हुए कहा, ”विकास और परिवर्तन की बात करते-करते धर्म के कार्ड पर वापस आ गए हैं. यूपी में बीजेपी की हालत खराब होती दिख रही है.”

उल्‍लेखनीय है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को फतेहपुर में अपनी चुनावी रैली में समाजवादी पार्टी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि गांव में अगर कब्रिस्तान बनता है तो शमशान भी बनना चाहिए. रमजान में बिजली मिलती है तो दिवाली पर भी बिजली मिलनी चाहिए. होली पर बिजली मिलती है तो ईद पर भी बिजली मिलनी चाहिए. जाति धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं होना चाहिए. ऊंच नीच नहीं होना चाहिए.

इसके साथ ही उन्‍होंने कहा था कि सरकार का काम है भेदभाव मुक्त शासन चलाना. धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं होना चाहिए. अन्याय की जड़ों में भेदभाव है. दलित से पूछो तो वो बोलते हैं कि पूरा फायदा ओबीसी ले ले रहा है, ओबीसी से पूछो तो वो कहते हैं कि यह फायदा यादव ले रहे हैं. बाकी सब मुसलमानों को चला जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here