लिंग्याज विद्यापीठ में ओरिन्टेशन मनाने के साथ हुआ नए सत्र का शुभारंभ

0
13
Faridabad/Alive News  : लिंग्याज विद्यापीठ ने ओरिन्टेशन दिवस मनाकर नए सत्र का शुभारम्भ किया। आयोजित समारोह में विद्यापीठ में प्रवेश लेने वाले नए छात्रों का पुराने छात्रों एवं स्टाफ ने हार्दिक स्वागत किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती वन्दना एवं द्वीप प्रज्ज्वलन द्वारा हुआ। इस अवसर पर रंगारंग कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया।
समारोह को सम्बोधित करने से पहले विद्यापीठ के कुलाधिपति डॉ. पिचेश्वर गड्डे ने विद्यापीठ के संस्थापक डॉ. जी.वी.के. सिन्हा को श्रद्धांजलि अर्पित की। उपस्थित जनों को सम्बोधित करते हुए डॉ. गड्डे ने नए छात्रों को विश्वास दिलाया कि उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में किसी प्रकार की कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने सात मुख्य शैक्षिक मूल्यों पर प्रकाश डाला—जिसमें अनुशासन, समय प्रबन्धन, वित्तीय प्रबन्धन, सुसंगति, कक्षा में पूर्ण उपस्थिति, पूर्ण विकास तथा व्यक्तित्व विकास शामिल थे।
विद्यापीठ के कुलपति डॉ. डी.एन. राव ने अपने सम्बोधन में लिंग्याज विद्यापीठ की विशेषताएं बताते हुए कहा कि शिक्षा हेतु आए हुए छात्र अपना पूरा ध्यान अध्ययन में लगाकर कॉलेज तथा अपने परिवार का नाम रोशन करें, यही उनका उद्देश्य होना चाहिए। डॉ. राव ने कहा कि आज से तीन सप्ताह का ऑरिएन्टेशन प्रोग्राम नए छात्रों के लिए विशेष रूप से शुरू किया जा रहा है, जिसमें कला, संचार, कौशल, मानवीय मूल्य, औद्योगिक क्षेत्र एवं अतिथि व्याख्यान पर छात्रों को विशेष जानकारी दी जाएगी।
समारोह में सह-कुलपति डॉ. आर.के. चौहान ने विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामनाएँ करते हुए शिक्षा में नवीनीकरण लाने एवं शोध कार्यों पर बल दिया। इस अवसर पर विद्यापीठ में 500 पौधों का रोपण भी किया गया। कार्यक्रम में निदेशक दिनेश सदाना सहित विभागाध्यक्ष उपस्थित रहे।
समारोह में विभिन्न सांस्कृतिक गतिविधियों जैसे वन्दना, भाँगड़ा, पश्चिमी नृत्य एवं फैशन शो का आयोजन किया गया। विद्यापीठ में पूर्व छात्रों ने अपनी शिक्षा ग्रहण करने के उपरान्त अपने मूल्यवान अनुभवों पर प्रकाश डाला। समारोह के उपरान्त डीन (एकेडिमिक) डॉ. पामिला चावला ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रीय गान से हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here