विनिर्माण क्षेत्र के सुधार के लिए तीन दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ

0
12

Faridabad/Alive News : वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग द्वारा जापान इंटरनेशनल कारपोरेशन एजेंसी (जेआईसीए) द्वारा संचालित विजनरी लार्नर्स फार मैनुफेक्चरिंग परियोजना (वीएलएफएम) के अंतर्गत विजनरी लर्निंग कम्युनिटी इंडिया विषय पर आयोजित तीन दिवसीय कार्यशाला का आज शुभारंभ किया गया।

कार्यशाला का शुभारंभ विभाग के अध्यक्ष प्रो. तिलक राज द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यशाला का संचालन डाॅ. ओम प्रकाश मिश्रा तथा डाॅ. महेश चंद द्वारा किया जा रहा है। कार्यशाला में विश्वविद्यालय से संबद्ध कालेजों, बहुतकनीकी संस्थानों तथा उद्योगों के प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे है। इस कार्यक्रम से जुड़े वाईएमसीए विश्वविद्यालय के प्राध्यापकों को वीएलएफएम में मुख्य प्रशिक्षक प्रो. साइदीप रत्नम द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

डाॅ. मिश्रा ने बताया कि इस कार्यशाला का उद्देश्य अकादमिक अध्ययन तथा औद्योगिक प्रशिक्षण की प्रक्रिया को एकीकृत करते हुए अकादमिक व औद्योगिक अंतराल को कम करना है तथा विनिर्माण क्षेत्र के लिए प्रशिक्षित इंजीनियर्स को तैयार करना है। इस कार्यक्रम के तहत औद्योगिक क्षमता तथा उत्पादन को बढ़ाने के लिए विनिर्माण की अवधारणा को एक प्रवाह के रूप में क्रियान्वित करना है।

कार्यशाला के दौरान प्रतिभागियों को विनिर्माण प्रवाह प्रबंधन प्रणाली तथा उत्पादन सुधार के उपायों से अवगत करवाया जायेगा तथा प्रशिक्षित किया जायेगा। कार्यशाला के दौरान प्रशिक्षण पाने वाले प्राध्यापक व उद्योग प्रतिनिधि आगे विद्यार्थियों तथा अपने क्षेत्र की लघु व मध्यम उद्यम इकायों को विनिर्माण सुधारों से अवगत करवायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here