मलेरिया की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह सतर्क

0
40

Palwal/Alive News: पलवल स्वास्थ्य विभाग द्वारा मलेरिया की रोकथाम के लिए सभी तैयारी पूरी कर ली गई हैं। मलेरिया अधिकारी डा.पंकज सिहं ने बताया कि मलेरिया व डेंगू की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है।

उन्होंने बताया कि गत वर्ष 362 केस मलेरिया के सामने आए थे लेकिन इस वर्ष अभी तक केवल 10 केस ही सामने आए है। जिनका ईलाज पूरा कर दिया गया है। ऐसे मरीजों के घरों के आसपास फॉगिंग करा दी गई है। मरीजों का फ़ॉलोअप भी ले लिया गया है। उन्होंने बताया कि मलेरिया के मरीजों की सुविधा के लिए एक कॉल सेंटर भी खोला गया है। मरीज उपचार से संबंधित जानकारी किसी भी समय प्राप्त कर सकता है। आमजन भी इस सुविधा का लाभ उठा सकते है।

उन्होंने बताया कि मलेरिया के अति संवदेनशील क्षेत्र सोलड़ा, छांयसा, होडल व हथीन में आईआरएस प्रोग्राम जिसके अंर्तगत घरों में दवाईयों का छिडक़ाव किया जा रहा है। उक्त जगहों पर नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिए गए है। मलेरिया की रोकथाम के लिए गांवों में ग्राम पंचायतों के माध्यम से तलाबों को भरने का काम शुरू कर दिया गया है। जिन तलाबों में मिट्टी नहीं भरवाई जा सकती उसमें दवाईयों का छिडकाव करा दिया गया है।

हरियाणा रोडवेज से काला तेल मंगवाया गया है। तेल को तालाबों में छिडक़ने का कार्य किया जा रहा है। ताकि मलेरिया का मच्छर मर जाए। इसी प्रकार जिले में 322 ऐसे तलाब है जिसमें गंबुजिया मछली डाली जा सकती है। उन्होंने बताया कि 85 तलाबों में गंबुजिया मछली डाली जा चुकी है। चालीस हजार आरडीटी किट मंगा ली गई है। सभी हेल्थ वर्कर को उपलब्ध करवा दी गई है। हेल्थ वर्कर आरडीटी किट लेकर फील्ड पर जाएगा और बुखार के मरीजों की मौके पर जांच करेगा।

अगर मलेरिया व डेंगू का कोई केस निकलता है तो उसका तुरंत ईलाज शुरू कर दिया जाएगा। साथ ही मरीज की स्लाईड भी बना दी जाएगी। स्लाईड सेंटर पर आने के बाद मरीज को दोबारा जानकारी प्रदान की जाएगी। नागरिक अस्पताल में मलेरिया व डेंगू अलग अलग वार्ड बना दिए गए है। जिसमें पांच बैड डाले गए है। एक हेल्पलाईन नंबर 01251275240022 भी शुरू कर दिया गया है। मलेरिया की रोकथाम के लिए घरों में कूलर, पानी की टंकी, गमलों, नालियों की सफाई करेें। पानी को घर व आसपास जमा न होनें देें।

Print Friendly, PDF & Email