Mumbai/Alive News : विद्या बालन का कहना है कि विवाहित अभिनेत्रियों के लिए बॉलीवुड में अच्छी भूमिकाएं तलाशना मुश्किल नहीं है क्योंकि फिल्म जगत समाज में होने वाले बदलाव को ही दिखाता है। बॉलीवुड में एक समय एेसा था जब माना जाता था कि शादी के बाद अभिनेत्रियों का करियर खत्म हो जाता है। विद्या ने कहा, मैं 37 साल की गौरवान्वित महिला हूं। शादी के बाद या फिर बच्चे होने के बाद महिलाओं का करियर नहीं थमता। इसलिए यह फिल्मों के लिहाज से भी सच ही है। अभिनेत्रियों के लिए यह अलग क्यों हो? उन्होंने यहां अपनी नई फिल्म कहानी 2: दुर्गा रानी सिंह’ के प्रचार के दौरान कहा, ‘‘लेखक असल जीवन के लोगों और घटनाओं से प्रेरित होते हैं और जब समाज में वे बदलाव हो रहे हैं तो उसका पर्दे पर दिखना तय है। विद्या ने साथ ही कहा कि उन्हें लगता है कि अब अभिनेत्रियों के लिए ज्यादा दमदार किरदार लिखे जा रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें जिस तरह के किरदार मिल रहे हैं, उनमें भी बदलाव आया है। आसमान बड़ा हो गया है। सुजॉय घोष द्वारा निर्देशित कहानी 2: दुर्गा रानी सिंह’ इस शुक्रवार को रिलीज हो रही है। फिल्म में विद्या के अलावा अर्जुन रामपाल, जुगल हंसराज और तोता रायचौधरी मुख्य किरदारों में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here