Patna/Alive News : दिल्ली में आठ और नौ सितंबर को भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद मिशन 2019 में जीत का फॉर्मूला तय करने के लिए बिहार के बोधगया में मंगलवार को प्रदेश कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक शुरू हो गई है। बैठक का उदघाटन सत्र अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर बने सभास्थल पर किया गया। बैठक में लोकसभा चुनाव की जीत के फॉर्मूले पर मंथन किया जा रहा है।

इस बैठक का मुख्य मुद्दा बिहार की सभी 40 की 40 सीट जीतने के फॉर्मूले के साथ ही एससी-एसटी एक्ट के विरोध में हुए सवर्ण समाज के आंदोलन और पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि को लेकर विपक्ष के आक्रामक रूख से निपटने पर भी चर्चा होगी। इसके साथ ही कार्यसमिति की बैठक में कई अहम मुद्दों पर भी विचार किए जाएंगे।

बैठक में मिशन 2019 को लेकर गंभीर चर्चा होगी और रणनीति को अमलीजामा पहनाने के लिए योजना बनाई जाएगी। राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक में तय की गई कार्ययोजना को लेकर पार्टी के कार्यकर्ता और पदाधिकारियों को काम करना है।

बैठक में बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह, सहप्रभारी सीआर पाटिल, पवन शर्मा, बिहार के कोटे से सभी केंद्रीय मंत्री, राष्ट्रीय प्रवक्ता शहनवाज हुसैन, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, प्रदेश कार्यसमिति के सभी सदस्य शामिल होंगे।

इसके पहले बीती संध्‍या भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय की अध्यक्षता में प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक आयोजित की गई जो करीब तीन घंटे तक चली। बैठक में मुख्य रुप से राजनीतिक प्रस्ताव एवं संकल्पों पर चर्चा की गई और उस पर गंभीर संवाद एवं विचार विमर्श करके अंतिम रूप दिया गया। राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक को लेकर पदाधिकारियों के बीच विस्तार से जानकारी दी गई। साथ ही दो दिनों तक होने वाली कार्यसमिति बैठक की रूपरेखा के बारे में भी बताया गया।

भाजपा के लिए बिहार में चुनौतियां कम नहीं हैं। बिहार में राजद को जबाब देने की तैयारी में जुटी बीजेपी संगठन को मजबूत बनाने से लेकर आम लोगों को अपने पाले में गोलबंद करने के लिए जुटी है। इसके साथ ही केंद्र सरकार की उपलब्धियां और कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचने की मुहिम भी शुरू की जाएगी।

पिछले दिनों संगठन में प्रदेश पदाधिकारियों का विस्तार हुआ जिसमें जातीय संतुलन का खास ध्यान रखा गया।अब बीजेपी बोधगया में ‘बूथ जीतो चुनाव जीतो’ के लिए अपने तमाम पदाधिकारियों के साथ बैठकर रणनीति तैयार करेगी। इसके साथ ही इस बार लोकसभा चुनाव में “अजय भारत” “अटल भाजपा” के नारे के साथ उतरने वाली है भाजपा यह बतायेगी कि उसके लिए नेशन फर्स्ट है और पार्टी दूसरे स्थान पर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here